बदले बदले नजर आ रहे “महाराज”, पहली बार बैठे झूले पर, दुकानदारों से पूछी समस्याएं

हम सबको मिलकर मेले के व्यापार और रौनक  को बढ़ाना है। 

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। एक शताब्दी से अधिक पुराने रियासतकालीन ग्वालियर व्यापार मेले में कभी सिंधिया राजवंश के लोग भेष बदल कर जाते थे, रियासत गई तो सियासत के दौर में लाव लश्कर के साथ सिंधिया परिवार का मेला घूमने का क्रम चलता रहा लेकिन इस बार कुछ बात अलग है। “महाराज” ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) भाजपा में आने के बाद बदले बदले से नजर आ रहे हैं। शनिवार की रात वे ना सिर्फ मेला घूमे बल्कि पहली बार झूले का भी आनंद लिया। उन्होंने दुकानदारों के पास जाकर व्यापार का हाल पूछा और लोगों को मास्क लगाए रहने की नसीहत दी  .

ये भी पढ़ें – Damoh By-election: इस प्रत्याशी के नाम पर लगी मुहर, सीएम शिवराज ने की घोषणा

राज्यसभा सांसद एवं पूर्व सिंधिया राजवंश के मुखिया “महाराज” ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia)ने शनिवार को दिनभर के कार्य्रक्रमों के बाद ग्वालियर व्यापार मेला पहुंचे। सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने भजन संध्या कार्यक्रम का शुभारम्भ किया और फिर मेले की सैर की। सिंधिया दुकानदारों के पास पहुंचे हालचाल जाना एवं व्यापार के बारे में बात की। सिंधिया (Jyotiraditya Scindia)ने कहा कि आपका व्यापार कैसा चल रहा है ग्राहक आ रहे हैं कि  नहीं .. दुकानदारों ने कहा कि कोरोना में परेशान थे लेकिन यहाँ आकर अब ठीक लग रहा है। सिंधिया (Jyotiraditya Scindia)ने कहा कि आप यहाँ अच्छे से व्यापार करो।  हम सबको मिलकर मेले के व्यापार और रौनक  को बढ़ाना है।

बदले बदले नजर आ रहे "महाराज", पहली बार बैठे झूले पर, दुकानदारों से पूछी समस्याएं बदले बदले नजर आ रहे "महाराज", पहली बार बैठे झूले पर, दुकानदारों से पूछी समस्याएं

पहली बार बैठे झूले पर, मंत्री तोमर, राजपूत भी रहे साथ

ऐसा नहीं है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) पहली बार मेला घूमने गए हो, वे हर साल एक बार परिवार के साथ मेला घूमने जरूर आते हैं लेकिन इस बार उनका अंदाज अलग है। वे मेला लगने के बाद से दो बार आ चुके हैं।  उन्होंने मेला  घूम रहे लोगों से मुलाकात की उन्हें मास्क पहने रहने की सलाह दी। इतना ही नहीं वे पहली बात झूले में भी बैठे। उनके साथ परिवहन मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत (Govind Singh Rajput) और ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar) भी झूले में बैठे। सिंधिया ने करीब 40 फीट की ऊंचाई से अपने पूर्वजों  स्थापित ग्वालियर व्यापार मेले को निहारा।  उन्होंने वहीँ से जनता का अभिवादन भी स्वीकार किया।

बदले बदले नजर आ रहे "महाराज", पहली बार बैठे झूले पर, दुकानदारों से पूछी समस्याएं बदले बदले नजर आ रहे "महाराज", पहली बार बैठे झूले पर, दुकानदारों से पूछी समस्याएं

बहरहाल “महाराज” ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) का ये बदला हुआ रूप आलोचकों के लिए चिंतन क अविषय हो लेकिन उनके इस बदले बदले रूप ने ये बता दिया है कि भारतीय जनता पार्टी में आकर वे अब पूरी तरह उसमें रच बस गए हैं।