MP में पति ने पत्नी के लिए बनवाया ‘ताजमहल’ जैसा घर, तस्वीरें देखकर आप भी कहेंगे- वाह ताज!

मध्य प्रदेश में रहने वाले आनंद प्रकाश चौकसे ने अपनी पत्नी को ताजमहल जैसा घर तोहफे में दिया है। ये घर दिखने में हूबहू ताजमहल लगता है।

बुरहानपुर, डेस्क रिपोर्ट। भारत में मुगल बादशाह शाहजहां ने अपनी बेगम मुमताज की याद में खूबसूरत ताजमहल (Taj Mahal) बनवाया था जिसका दीदार करने की हर कोई चाहत रखता है। प्रेम की इस अनमोल निशानी को देखने के लिए लोग सात समंदर से पार आगरा आते हैं और ताजमहल की खूबसूरती को निहारते हैं। ऐसी ही प्यार की एक अनोखी मिसाल एमपी के बुरहानपुर में एक शख्स ने पेश की है जिसे देखकर हर कोई कह रहा है- ‘वाह ताज!’

ये भी देखें- पाकिस्तान को खदेड़ने वाले विंग कमांडर अभिनंदन वीर चक्र से सम्मानित

दरअसल मध्यप्रदेश के बुरहानपुर में रहने वाले आनंद चौकसे (Anand Prakash Chouksey) ने अपनी पत्नी को हूबहू ताजमहल की तरह दिखने वाला एक घर बनाकर तोहफे में दिया है। ताजमहल की तरह दिखने वाले इस घर में 4 बैडरूम, 1 किचन, 1 लाइब्रेरी और 1 मेडिटेशन रूम है। इस घर के बाहर असली ताजमहल की तरह मीनारें भी हैं। घर के अंदर और बाहर इतनी अच्छी लाइटिंग की गई है कि अंधेरे में भी यह घर रोशनी से चमकता हुआ ताजमहल जैसा खूबसूरत दिखता है। इस घर को बनाने में लगभग 3 साल का समय लगा।

j6ii6i9g

मध्यप्रदेश के बुरहानपुर जिले में रहने वाले आनंद चौकसे ने अपनी पत्नी को ताजमहल जैसा यह घर बनवा कर गिफ्ट दिया है। उनके मन में कसक थी की बेगम मुमताज की मौत के बाद आगरा में बनाए गए ताजमहल को लोग खूब पसंद करते हैं, लेकिन मुमताज़ की मौत बुरहानपुर में ही हुई थी, लेकिन यहां ताजमहल नहीं बनवाया गया। इतिहास में भी जिक्र है की शाहजहां ने बेग़म मुमताज़ की मौत के बाद ताजमहल बनवाने के लिए ताप्ती नदी के किनारे को चुना था, लेकिन बाद में इसे आगरा में बनवाया गया। बस इसी कसक को पूरा करने के लिए आनंद चौकसे ने बुरहानपुर में अपनी पत्नी को हूबहू ताजमहल जैसा दिखने वाला एक घर बनाकर तोहफे में दिया है।

Madhya Pradesh news husband built second taj mahal for gifted his wife unique home burhanpur

इस घर को बनाने की मंशा से आनंद चौकसे और उनकी पत्नी मंजूषा चौकसे आगरा गए थे और वहां जाकर ताजमहल को बारीकी से देखा। फिर इंजीनियरों को ताजमहल जैसा ही घर बनाने को कहा। घर बनाने वाले इंजीनियर ने बताया इस घर के निर्माण में कई अड़चनें आई। इसके लिये उन्हें असली ताजमहल की बारीकी से अध्ययन करना पड़ा।

इस घर में डोम 29 फीट ऊंचा रखा गया है, इसमें एक बड़ा हॉल है, 2 बैडरूम नीचे और दो बेडरूम ऊपर हैं। एक किचन एक लाइब्रेरी और एक मेडिटेशन रूम भी बनाया गया है। घर के अंदर की गई नक्काशी के लिए बंगाल और इंदौर के कलाकारों की भी मदद ली गई।

Madhya Pradesh news husband built second taj mahal for gifted his wife unique home burhanpur