सावधान! ‘कोरोना टेस्ट’ के नाम पर हो रही धोखाधड़ी, पुलिस ने जारी की एडवाइजरी

मण्डला|सुधीर उपाध्याय| शासन द्वारा बड़े पैमाने पर किये जा रहे कोरोना टेस्ट तथा इसके बारें में इंटरनेट, मोबाईल ऐप्स तथा संचार के अन्य आधुनिक साधनों के माध्यम से आमजनता को जागरुक करने के लिये चलाये जा रहे कार्यक्रमों को देखते हुए अपराधियों द्वारा भी आमजनता के साथ ठगी करने के नये नये अवसर तलाश किये जा रहे हैं । पिछले कुछ दिनों से ऐसे अपराधियों द्वारा मोबाईल पर कोरोना टेस्ट के नाम से लिंक भेजकर आमजनता के साथ धोखाधड़ी करने का प्रयास करने की शिकायतें मण्डला पुलिस को लगातार प्राप्त हो रही हैं ।

आमजनता को कोरोना वायरस टेस्ट के नाम पर ठगने का प्रयास कर रहे अपराधियों से बचाने के लिये पुलिस अधीक्षक मण्डला दीपक कुमार शुक्ला के निर्देशन पर सायबर सेल मण्डला द्वारा इस संबंध में एडवायजरी जारी की गई है । इसमें आमजनता को ठगों द्वारा इस्तेमाल किये जा रहे तरिकों की जानकारी देते हुए समझाया गया है कि सायबर ठगों तथा आपराधिक तत्वों द्वारा कोरोना टेस्ट के नाम पर लोगों को मोबाईल पर फर्जी लिंक भेजी जा रही है ।

आमजनता द्वारा उत्सुकतावश ऐसी फर्जी लिंक पर क्लिक करते ही मोबाईल पर रिमोट एप डाउनलोड हो जाता है या एक फार्म ओपन होता है जिसमें आपसे आपकी निजी जानकारी जैसेः- मोबाईल नंबर, ई-मेल आई.डी., आधार कार्ड तथा अन्य जानकारियां आदि मांगी जाती है । आमजनता द्वारा ऐसी जानकारिया फार्म में भरने पर सीधे अपराधियों तक पंहुच जाती है और आपराधिक तत्वों द्वारा इस गोपनीय जानकारी का उपयोग गलत तरीके से कर धोखाधड़ी की जाती है ।

मण्डला पुलिस द्वारा एडवायजरी के माध्यम से आमजनता से अपील की गई है कि वो इस प्रकार किसी भी माध्यम से प्राप्त होने वाले लिंक पर क्लिक न करें, न ही अपनी निजी जानकारियां साझा करें । कोरोना टेस्ट के नाम पर ऐसी कोई भी लिंक शासन द्वारा नहीं भेजे जाते है । इसके साथ ही किसी भी प्रकार का सायबर अपराध घटित होने की सूचना तत्काल नजदीकी पुलिस थाना या साईबर सेल, मंडला को मोबाईल नम्बर 7049141561 पर देने की अपील भी की गई है ।