मण्डला : कलेक्टर ने ली कोरोना समीक्षा बैठक, दिए जरूरी दिशा-निर्देश

मण्डला कलेक्टर हर्षिका सिंह (Collector Harshika Singh) ने नैनपुर में कोरोना समीक्षा बैठक ली। बैठक में कलेक्टर ने व्यवस्थाओं की जानकारी लेकर जरूरी निर्देश दिए।

मण्डला, डेस्क रिपोर्ट। जिला दण्डाधिकारी एवं कलेक्टर हर्षिका सिंह (Collector Harshika Singh) ने नैनपुर अनुविभाग की कोरोना समीक्षा बैठक की। बैठक में उन्होंने ने व्यवस्थाओं की जानकारी ली और जरूरी निर्देश भी दिए। कलेक्टर ने एसडीएम और तहसीलदार को फर्जी डॉक्टर की सूची तैयार कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ग्रामीण क्षेत्र में लोगों का हालचाल जानने पहुंची। जहां उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि कोई भी समस्या हो तत्काल बताएं, उसका निराकरण किया जाएगा।

यह भी पढ़ें:-कोरोना संकट में पिछोर विधायक ने की मदद की पहल, निधि से दिए 50 लाख रुपये की धनराशि

कलेक्टर ने एसडीएम और तहसीलदार नैनपुर को निर्देशित किया कि नैनपुर क्षेत्र के फर्जी डॉक्टर की सूची तैयार कर कार्रवाई की जाए। इस संबंध में कोटवार एवं सचिव से भी जानकारी लें। कलेक्टर ने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में भी लगातार मुनादी कराएं। उन्होंने सीएमओ नैनपुर और सीईओ जनपद नैनपुर को नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना से बचाव के दिशा निर्देशों का पर्याप्त प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने सीएमएचओ डॉ. श्रीनाथ सिंह को नैनपुर क्षेत्र एवं अस्पताल में सभी जरूरी दवाइयां, फ्लोमीटर और अन्य जरूरी उपकरण तत्काल उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में दवाइयां इंजेक्शन की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित हो।

बिना नेगेटिव रिपोर्ट के जिले में नहीं मिलेगा प्रवेश

कलेक्टर ने एसडीएम नैनपुर को निर्देशित किया कि ट्रैन के माध्यम से जिले में प्रवेश करने वाले बाहर के लोगों की रेल विभाग के साथ समन्वय कर जानकारी संधारित करें। उन्होंने कहा कि जिले में बाहर से प्रवेश करने वाले रेल यात्री आरटीपीसीआर की नेगेटिव रिपोर्ट लेकर ही जिले में प्रवेश करें। उन्होंने नैनपुर अनुविभाग में कोविड टीकाकरण को लगातार बढ़ाने के निर्देश दिए। इसी प्रकार कोविड जांच के लिए मोबाइल टेस्टिंग की व्यवस्था भी सुनिश्चित करने की बात कही। कलेक्टर ने सीईओ जनपद को निर्देशित किया कि पंचायतवार संकट प्रबंधन समिति बनाएं, उन्हें क्षेत्र में कोरोना संक्रमण के लिए जारी दिशा निर्देशों का पालन कराने अवगत कराएं। इसी प्रकार ग्रामीण क्षेत्रों में आयुष्मान कार्ड धारी एवं पात्र लोगों को निःशुल्क कोरोना इलाज की सुविधा मिलने संबंधी जानकारी भी मुनादी के माध्यम से सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने एसीईओ मरावी को सभी पंचायतों में आयुष्मान कार्ड की पात्रता के आधार पर निःशुल्क कोविड इलाज प्राप्त करने संबंधी जानकारी प्रसारित करने के निर्देश दिए। नैनपुर अस्पताल में वार्ड बॉय, आया, नर्सेज एवं जरूर स्टॉफ की भर्ती से संबंधित चर्चा की। उन्होंने कहा कि अस्पताल में काम करने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों के इच्छुक व्यक्तियों की जानकारी लें और उन्हें संबंधित कार्यों के लिए भर्ती कराएं।