पुल निर्माण में जमीन जाने के डर से किसान ने पिया कीटनाशक, अस्पताल में चल रहा इलाज

Mandsaur News: मंदसौर में पुल निर्माण में अपनी जमीन जाने के डर से एक किसान ने आत्महत्या का कदम उठाया है। किसान ने कीटनाशक पी लिया है जिसके बाद अस्पताल में उसका इलाज किया जा रहा है। फिलहाल उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।

जिस पुल निर्माण में अपनी जमीन जाने के डर से किसान ने कीटनाशक पिया, उसका भूमि पूजन 20 दिन पहले वित्त मंत्री ने किया है। पूरा मामला मंदसौर के डोडिया मीणा का है। यहां शिवना नदी पर 5 करोड़ 71 लाख की लागत से पुल का निर्माण किया जाने वाला है। वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने 12 नवंबर को इस का भूमि पूजन किया है।

पीडब्ल्यूडी के सहयोग से बन रहे इस पुल के निर्माण के लिए पीडब्ल्यूडी अधिकारी, इंजीनियर और राजस्व अधिकारी मुआयना करने के लिए पहुंचे थे और जमीन की नपती ले रहे थे। यहां के किसान बद्रीलाल ने पुल निर्माण के दौरान अपनी जमीन जाने के डर से कीटनाशक पी लिया। मौके पर मौजूद अधिकारियों ने एंबुलेंस बुलवाकर किसान को जिला अस्पताल भिजवाया, जहां उसका इलाज किया जा रहा है।

इस मामले को लेकर पटवारी का कहना है कि कोलवा गांव के किसान ने कीटनाशक पी लिया था, जिसे एंबुलेंस की सहायता से जिला अस्पताल भेज दिया गया है। जहां पुल का निर्माण किया जाना है उसके पास ही किसान की जमीन लगी हुई है और लगभग डेढ़ बीघा जमीन का अधिग्रहण किया जाएगा। पटवारी ने जानकारी देते हुए बताया कि जमीन अधिग्रहण का मुआवजा किसान को मिलेगा, लेकिन अपनी जमीन जाने के डर से उसने यह कदम उठाया है और उसका उपचार किया जा रहा है।