रेलवे ट्रैक के पास खड़ी वेन में शॉर्ट सर्किट से लगी आग, कड़ी मशक्कत से लोगों ने किया काबू

मंदसौर के पास स्थित दलौदा में रेलवे ट्रैक के पास खड़ी एक वेन में अचानक ही आग लग गई। मौके पर मौजूद लोगों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। आग बुझाने के लगभग आधे घंटे बाद दमकल की गाड़ी वहां पहुंची।

मंदसौर, डेस्क रिपोर्ट। मंदसौर (Mandsaur) के दलौदा (Daloda) में रेलवे ट्रैक के पास एक वेन में अचानक ही आग लगने की घटना सामने आई है। इस घटना को देखकर मौके पर मौजूद लोगों ने पुलिस को सूचना दी और फिर आग पर जैसे तैसे काबू पाया गया।

ये घटना दलौदा स्टेशन के रैक पॉइंट पर हुई। यहां पर मालगाड़ी के रैक को भरने के लिए राजस्थान से वेन से मजदूर बुलवाए गए थे। मजदूर वेन से उतरकर रैक पॉइंट पर लोडिंग करने के लिए चले गए। खड़ी हुई वेन में शॉर्ट सर्किट के चलते अचानक आग लग गई और यह धूं-धूंकर जल उठी। मौके पर मौजूद लोगों ने आग पर काबू पाने की कोशिश करते हुए इस बात की सूचना पुलिस को दी।

पुलिस ने इस मामले की जानकारी नगर परिषद की दमकल को दी। दमकल की गाड़ी लगभग आधे घंटे में वहां पहुंची जब तक पुलिसकर्मियों और स्थानीय लोगों ने वेन में लगी आग पर काबू पा लिया था। लेकिन आग बुझाने तक कार पूरी तरह से जलकर खाक हो गई थी। इस आगजनी की घटना की जिम्मेदारी कोई भी लेने को तैयार नहीं है। रेलवे स्टेशन के अधिकारियों का कहना है कि उनका इस घटना से कोई लेना देना नहीं है। रैक ठेकेदार का कहना है कि हमारा काम लोडिंग करवाना है, हम यहां गाड़ियों का ध्यान रखने के लिए नहीं है। पुलिस ने इस मामले में जानकारी देते हुए बताया कि कार किसी पीयूष नामक व्यक्ति की है। जिसमे मजदूरों को लाया गया था फिलहाल कोई भी शिकायत दर्ज नहीं की गई है।

Must Read- Dev Uthani Ekadashi : देवउठनी एकादशी कल, जानें पूजन विधि और शुभ मुहूर्त

मंदसौर के दलौदा में लगभग 18000 लोग निवास करते है। आसपास 20 गांव होने के साथ यहां पर जिले की दूसरी सबसे बड़ी सब्जी मंडी भी है। लेकिन इसे अभी तक नगर पंचायत का दर्जा नहीं दिए जाने की वजह से दमकल सुविधा यहां पर उपलब्ध नहीं है। ऐसे में आगजनी की स्थिति में दमकल को मौके पर पहुंचने में लगभग 45 मिनट का समय लग जाता है। यहां दमकल के अभाव में कोई भी घटना भीषण रूप धारण कर सकती है।