युवक के प्यार में जोधपुर से मंदसौर आई युवती ने की शादी, मुस्लिम धर्म बदलकर अपनाया हिन्दू धर्म

मंदसौर, नरेंद्र धनोतिया।  मंदसौर में एक मुस्लिम युवती ने सनातन धर्म स्वीकार करके वैदिक मंत्रोचार के साथ हिंदू लड़के से शादी की है। युवती राजस्थान के जोधपुर की रहने वाली है और उसे मंदसौर के रहने वाले राहुल से 3 साल पहले प्यार हो गया था, मंदसौर के गायत्री परिवार मंदिर पर पहले इकरा नाम की युवती का पवित्रीकरण किया गया और उसे हिंदू धर्म की दीक्षा दी गई। बाद में हिंदू रीति रिवाज के अनुसार उसकी शादी भी करवाई गई। इकरा नाम की युवती अब इशिका नाम से जानी जाएगी।

यह भी पढ़ें… सागर : जैन मंदिर के पुजारी ने मासूम को पहले पीटा फिर खंबे से बांधा, प्रसाद के बादाम चुराने का आरोप

मंदसौर के गायत्री मंदिर पर राजस्थान के जोधपुर की रहने वाली इकरा का पंचगव्य से पवित्रीकरण किया जा रहा है और इसे सनातन धर्म यानी हिंदू धर्म की दीक्षा दी जा रही है। जोधपुर की रहने वाली इकरा को मंदसौर के रहने वाले राहुल वर्मा से 3 साल पहले प्यार हो गया था राहुल किसी काम से जोधपुर गया हुआ था, वहां पर इकरा का और राहुल का घर पास पास में ही थे। प्यार जब परवान चढ़ा तो दोनों ने शादी करने की सोची, राहुल के घर वाले तो तैयार हो गए लेकिन इकरा के घर वाले तैयार नहीं हुए, इकरा अपने घर से भाग कर आ गई, पहले इन्होंने उदयपुर में ही कोर्ट में अपनी शादी के कागजात तैयार करवाएं। बाद में यह मंदसौर आ गए और उन्होंने पहले पुलिस थाने में अपनी शादी के पेपर जमा करवाएं और अब सनातन धर्म की परंपरा अनुसार हिंदू धर्म के रीति रिवाज से यह शादी के बंधन में बंद रहे हैं।

यह भी पढ़ें…. मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग का स्थापना दिवस मनाया जाएगा 11 सितंबर को, सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश होंगे शामिल

इकरा का कहना है कि अब इशिका बन चुकी है, अपनी मर्जी से राहुल के साथ शादी कर रही है। मेरे घरवाले शादी का विरोध कर रहे हैं इसलिए हमें सुरक्षा भी दी जाए।  राहुल का भी कहना है कि हम दोनों एक दूसरे की सहमति से शादी कर रहे हैं इकरा हिन्दु बनने के लिए तैयार हो गई,तो हमने शादी के बारे मे घर वालो को तैयार किया, मेरे घर वाले तैयार है।  अभी कुछ महीने पहले ही मुस्लिम धर्म छोड़कर सनातन धर्म स्वीकार करने वाले चैतन्य सनातनी ने इनका विवाह संपन्न करवाने के लिए सारी औपचारिकताएं पूरी करवाई। चैतन्य सनातनी का कहना है कि इकरा अपनी मर्जी से धर्म परिवर्तन कर रही है और अपनी मर्जी से शादी कर रही है। इसी का और राहुल की शादी करवाने वाले गायत्री मंदिर के पुजारी का कहना है कि इकरा का पंचगव्य से स्नान कर पवित्रीकरण कराया गया और हिंदू धर्म की सनातन धर्म की दीक्षा दी गई उसके बाद में वैदिक मंत्रोच्चार के साथ हिंदू रीति रिवाज के अनुसार इनकी शादी करवाई जा रही हैं। इसी का और राहुल दोनों अलग-अलग धर्म से होते हुए भी सात जन्मों के बंधन में बंध गए हैं लेकिन इशिका को अपनेे घर वालों और धर्म वालों से खतरा लग रहा है, इशिका ने अपने और अपने पति की सुरक्षा की मांग की है।