Bribe : लोकायुक्त के जाल में फंसा बैंक मैनेजर, 25 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथों धराया

bribe

मंदसौर, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश  (Madhya Pradesh ) में रिश्वत (Bribe) का खेल तेजी से चल रहा है। शुक्रवार को सीधी और विदिशा में दो अधिकारी लोकायुक्त द्वारा ट्रैप किए गए थे और आज शनिवार सुबह झाबुआ में जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के महाप्रबंधक को 1.50 लाख की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया गया और अब शाम होते होते मंदसौर में सेंट्रल बैंक का मैनेजर को 25 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार किया गया है। लोकायुक्त की इस कार्रवाई के बाद से ही बैंक में हड़कंप मच गया है।

यह भी पढ़े.. मध्य प्रदेश उपचुनाव : त्योहारों के बाद हो सकता है तारीखों का ऐलान, जोरों पर तैयारियां

मिली जानकारी के अनुसार, मंदसौर में उज्जैन लोकायुक्त की टीम ने सेंट्रल बैंक आफ इंडिया शाखा संधारा के मैनेजर हनुमान बेरवा को 25 हज़ार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है।आरोप है कि मैनेजर ने केसीसी में बची हुई राशि देने व दुकान के खाते की लिमिट बढ़ाने के नाम पर 40 हजार रुपये की रिश्वत मांगी थी। इसकी शिकायत चंद्रशेखर नागर निवासी संधारा जिला मंदसौर ने पिछले महिने की तारीख 31 अगस्त 2021 को लोकायुक्त से की थी, जिसकी जांच के बाद आज दबिश देकर मैनेजर को ट्रैप किया गया।फिलहाल कार्रवाई जारी है।

यह भी पढ़े.. MP: पटरी टूटी देख ग्रामीण ने लाल टी शर्ट से दिया सिग्नल, चालक ने रोकी ट्रेन, बड़ा हादसा टला