पुलिस प्रशासन की लापरवाही के चलते बड़े सट्टे केंद्र में बदल रहा मंदसौर

IPL

मंदसौर, तरुण राठौर। दो दिनों से आईपीएल (IPL) के मैंच चल रहे है। जिसपर नगर में जमकर ऑनलाइन सट्टा (Online betting) लग रहा है। और पुलिस प्रशासन है कि इन ऑनलाइन सट्टे बाजो पर कोई नकेल नहीं कस पा रही है। जिसका ये जमकर फायदा उठा रहे है। लोगो को लाखों रुपए के जीत का सपना दिखकर सट्टेबाज बना रहे है। जबकि पुलिस प्रशासन का फर्ज है कि वह इन सट्टेबाजों के खिलाफ कार्यवाही करे। परन्तु वह ऐसा नहीं कर रही। जिसकी वजह से मंदसौर नगर सहित पूरा जिला मालवा क्षेत्र में सट्टेबाजों का सबसे बड़ा गढ़ बन गया है। क्योंकि सट्टेबाजों को पता है कि मालवा के इस मन्दसौर जिले में बड़ी आसानी से पुलिस प्रशासन का सहयोग मिल जाता है। जिसके चलते सट्टेबाज बड़ी आसानी अपने सट्टे का व्यपार कर लाखो रुपए कमा लेते है। और लोगो को बड़े बड़े सपने दिखाकर लाखो रुपए का चूना लगा देते है। जबकि नगर सहित जिले में दो दिनों में लाखों का सट्टा लग चुका है। परंतु पुलिस है कि अभी कुंबजकर्णी नीद में सो रही है। वैसे आईपीएल के मैच के सट्टे का नियम है कि 6 ओवर का एक सेसन होता है इस तरह 3 ओवरसेसन होते है एक पूरे मैंच का 20 ओवर का सेसन होता है। जबकि लगाइवाल व खाईवाल के बीच में 1 रन का अंतर होता है। पूरे 20 अवर के मैच में 3 रन अंतर होता है। इसी तरह दूसरी पारी में 6 ओवर के ही सेसन होते है। कल के मैच में भी यही हुआ। मन्दसौर मालवा में सबसे बड़ा सट्टे का केंद्र बनकर उभरा। जहां से मन्दसौर सहित उज्जैन संभाग के कई जिलो का सट्टा चल रहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here