व्यापारी के घर को कन्टेंटमेंट क्षेत्र से मुक्त कराने नपाध्यक्ष का राजनैतिक दबाव, प्रशासन ने की दुकान सील

मंदसौर।तरुण राठौर।

कंटेंमेंट क्षेत्र के नियम को ताक पर रखे हुए दुकान खोलने वाले दो व्यपारियो की पैरवी करने स्वयम नपाध्यक्ष प्रशासन की कार्यवाही के बीच में पहुंचे।और प्रशासन को नियम का पाठ पढ़ाते हुए व्यपारी के घर को कन्टेंटमेंट क्षेत्र से मुक्त करने का दबाव बनाया। पर दाल न गलती देख वहां से बोलकर निकल लिए। वहीं प्रशासन ने कार्यवाही करते हुए व्यपारी की दुकान 14 दिन के लिए सील कर दी है। हालांकि दो व्यपारिय जगदीश अडानी व उसके भाई ने कोरोना जैसी बीमारी को हल्के में लेते हुए पीछे के रास्ते से निकलकर अपनी दुकान खोली। जो कालाखेत व खाल मार्केट में। जिसका पता प्रशासन को लगा तो प्रशासन की टीम कार्यवाही करने व्यपारी के घर पहुंची ,तो दोनों व्यपारी घर से बाहर नहीं निकले। व स्पोर्ट के लिए नगर के प्रथम नागरिक राम कोटवानी को बुला लिया। जिसके बाद नगर पालिका अध्यक्ष कंटेंमेंट क्षेत्र आए। जहां पर उन्होंने कार्यवाही करने आई प्रशासन की टीम पर राजनीतिक दबाव बनाते हुए कार्यवाही में बाधा खड़ी की। ओर प्रशासनिक अधिकारी को नसीयत दी कि वो खाली मरीज के घर को कन्टेंटमेंट क्षेत्र बना।ओर कन्टेंटमेंट क्षेत्र के नियम की धज्जिया उड़ाने वाले व्यपारी जगदीश आडवाणी व उसके भाई के घर को कन्टेंटमेंट क्षेत्र से मुक्त कर दे। जिससे व अपना व्यपार कर सके। क्योंकि ये दोनों भाई नपाध्यक्ष के काफी करीबी है। बताया जा रहा है कि कंटेंमेंट क्षेत्र बनते समय भी जगदीश अडानी ने राजनीति करने की कोशिश की थी पर उस समय भी उसकी दाल नहीं गली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here