नेल आर्ट के ज़रिये दिया शांति का संदेश

मंदसौर| दूसरे विश्वयुद्ध की यादों को अलग तरह से संजोया है मरियम वाजिद सिद्दीकी नाम की महिला ने। मंदसौर से 8 किमी दूर सोनगरी की रहने वाली मरियम खान ने 30 महिलाओं की टीम के साथ मिलकर 20 लाख 44 हजार 446 कीलों से दुनिया का सबसे बड़ा नेल मोजेक बनाया है। 64 फीट लंबी और 24 फीट चौड़ी कृति में माइल्ड स्टील नेल्स का इस्तेमाल किया गया है। नेल आर्ट में मरियम ने अपने पति वाजिद सिद्दीकी का ही गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड् तोड़कर नया विश्वरिकॉर्ड बनाया है। 

इसे बनाने में 10 महीने का समय लगा। इसमें 20,44,446 किलों का इस्तेमाल इसलिये किया गया है क्योंकि दूसरे विश्वयुद्ध में इतने ही लोगों की जान गई थी। इसलिये हर कील एक एक सैनिक और उनके परिवार की त्रासदी को बयां करती है। कलाकृति में एक महिला एक गाड़ी में बैठकर अपने घर की ओर जा रही है जिसे दो पुरूष चला रहे हैं। इसमें वाहन चालक का सिर और गाड़ी का स्टेरयिंग नहीं है, जो अपने आप में एक छिपा हुआ संदेश दे रहे हैं। ये कलाकृत बताती है कि युद्ध किसी भी मसले का हल नहीं है और शांति से ही दुनिया में अमन चैन कायम किया जा सकता है।

 आपको बता दें कि आर्टिस्ट वाजिद खान और मरियम पति पत्नी है, मरियम ने इस्लामिक आर्ट में फाइनआर्ट किया है और इस्लामिक स्टडी में पीएचडी कर रही हैं। 2012 में वाजिद खान ने सवा लाख कीलों से महात्मा गांधी की तस्वीर बनाकर विश्व रिकॉर्ड बनाया। उनकी एक वर्कशॉप भी है जहां वो इच्छुक लोगों को ये कला सिखा रहे हैं।