नियम की धज्जिया उड़ाते हुए रात करीब 10 बजे मंदिर दर्शन करने पहुंचे मंत्री सकलेचा

मंदसौर।तरुण राठौर।

जिले में लगातार बढ़ते कोरोना केस को देखे हुए प्रशासन ने शनिवार शाम 7 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक सख्त लोकडाउन लगाया गया। ऐसे में सत्तारुण्ड पार्टी के कैबिनेट मंत्री खुद केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए नियमो की धज्जियां उड़ा रहे है। जबकि केंद्र व राज्य में भाजपा की सरकार है। उसके बाद भी नए नवेले मंत्री व उनके समर्थक कोई भी नियम का पालन नहीं कर रहे है। ऐसे में आम जनता नियम पालन करने की हिदायत देना बेमानी है। क्योंकि सत्तारुण्ड पार्टी के नेता व मंत्री मान गए है कि कोरोना के नियम आम जनता के लिए है हमारे लिए नहीं है क्योंकि हम तो इस प्रदेश के राजा है। हम जो कहे वहीं नियम है। जबकि आम जनता यदि नियम को तोड़दे तो प्रशासन का डंडा उन बेचारो पर चल जाए। पर ये नेता है मंत्री है इन पर प्रशासन कैसे अपना डंडा चलाए। यदि प्रशासन कोई कदम उड़ाए तो इन का कोप का भागी बन जाए। ऐसा ही मामला सामने आया जब केबिनेट मंत्री बनने के बाद भोपाल से देर रात मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा मंदसौर पहुंचे। जहां पर वे रात करीब 10 बजे भगवान पशुपतिनाथ के दर्शन करने गए। उनके साथ नगर के प्रथम नागरिक राम कोटवानी भी मौजूद थे। जबकि टोटल लोकडाउन की घोषणा के चलते 7 बजे से पहले ही प्रशासन ने पूरे नगर को बंद कर दिया था। और पुलिस बल द्वारा कड़ाई से पालन किया जा रहा था। उसके बाद भी नियमों को ताकपर रखते हुए मंत्री जी के समर्थक उनकी अगवानी करने पहुंचे। वहीं नई गाइडलाइन के अनुसार मंदिर रात 9 बजे तक खुला रहता है। किंतु मंत्री जी गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाते हुए रात 10 मंदिर पहुंचे और भगवान की पूजा अर्चना की। जिसे देखकर तो यही लगता है। मंत्री जी के लिए नियम अलग है और जनता के लिए नियम अलग है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here