मंदसौर।तरुण राठौर।
नगर में महामारी का प्रकोप चल रहा है। जिससे बचने के लिए प्रशासन लॉक डाउन लगा रखा है। इसके चलते कई गरीब परिवारों के समाने रोजी रोटी का संकट खड़ी हो गया है। विपदा की इस घड़ी में नगर के कई समाजसेवियों सहित प्रशासन इन लोगो को रोज खाना व पानी व्यवस्था कर रहा है। इस दौरान विधायक यशपालसिंह सिसोदिया ने क्षेत्र के 5000 इन गरीब और जरूरत मंद परिवारों को राहत का सामान पहुचाने का बीड़ा उठाया है।

इसके लिए उन्होंने राशन की किट तैयार की। जिसमें आटा , दाल सहित अन्य उपयोगी वस्तु है। जिसको एक कट्टे में पैक कर कर दिया जा रहा है। जिसपर विधायक सहित प्रधानमंत्री व पार्टी का फोटो है। जो इस संकट की घड़ी में भी राजनीतिकरण का घोतक है। क्योंकि ये समय राजनीति करने का नही इस समय एक होकर विपता से लड़ने का है। पर बीजेपी के विधायक है कि वह इस प्रकार की किट बाटकर क्या दर्शाना चाहते है। जबकि अन्य सामाजिक संगठन खाने के साथ किट बाट रही है। पर उनपर इस प्रकार का कोई राजनीतिक पार्टी का चिन्ह नहीं है। जिसको लेकर जनता का कहना है विधायक अपनी राजनीति चमकाने में लगे। जबकि विधायक इससे गलत नहीं मानते है।
इस कीट में 5 किलो आटा व 1 किलो दाल है जो अलग अलग पैक की गई है उन अलग अलग पैक पर भी विधायक का फोटो सहित प्रधानमंत्री का फोटो है। जिन्हें विधायक अपने कार्यकर्ता के माध्यम से बटवा रहे है। जो कार्यकर्ता बाट रहे वह न तो मास्क पहन रहे है नहीं सोशल डिटेन का पालन कर रहे है। साथ इस कीट का फोटो सोशल साइड पर डालते हुए विधायक आभार जताया रहे है। मानो जैसे राशन बातकर जनता पर ऐसान किया है। जबकि ये तो उनका अधिका है कि वह इस मुशीबत के समय में उनका साथ दे।