Mobile Theft Complaint Portal पर दें चोरी की सूचना, तुरंत पकड़ में आएगा चोर

Mobile Theft Complaint Portal

Mobile Theft Complaint Portal Start: मोबाइल गुम जाना या चोरी चला जाना इन दिनों बहुत आम घटना है जो किसी के भी साथ हो सकती है। व्यक्ति के मोबाइल में उससे जुड़ी सारी महत्वपूर्ण जानकारी होती है ऐसे में उसे परेशानियों का सामना करना पड़ता है। लेकिन इस समय के समाधान के लिए सरकार ने एक ऐसे पोर्टल की शुरूआत की है, जिसके जरिए आप की कंप्लेंट करने के तुरंत बाद आपका फोन ब्लॉक हो जाएगा। चोरी करने वाला उसका इस्तेमाल बिल्कुल भी नहीं कर पाएगा और अगर कोशिश करेगा तो अलर्ट पुलिस तक पहुंचेगा।

ऐसा है Mobile Theft Complaint Portal

केंद्र सरकार की ओर से सेंट्रल इक्विपमेंट आईडेंटिटी रजिस्टर पोर्टल की शुरूआत की गई है। जिसके जरिए रिपोर्ट करने के तुरंत बाद ही यूजर का फोन ब्लॉक हो जाएगा। दूरसंचार विभाग द्वारा साइबर सेल को इसका प्रशिक्षण दिया गया है और इसे चलाना बिल्कुल आसान है। इसमें सबसे अच्छी सुविधा फोन को ब्लॉक करवाने की है। इसके लिए सिर्फ हेल्पलाइन नंबर 14422 पर एसएमएस करना होगा और फोन चोरी करने वाले व्यक्ति के किसी भी काम का नहीं रहेगा। इसका उपयोग करने के लिए वह जैसे ही सिम लगाएगा तो पुलिस स्टेशन पर अलर्ट आ जाएगा और एक्शन लेते हुए उस व्यक्ति को पकड़ा जा सकेगा।

क्राइम ब्रांच के चक्करों से छुटकारा

दूरसंचार विभाग द्वारा मध्यप्रदेश के साइबर सेल अधिकारियों को इस पोर्टल को चलाने का प्रशिक्षण देना शुरू कर दिया गया है। पहने व्यक्ति का मोबाइल गुम हो जाता था या चोरी चला जाता था तो वह क्राइम ब्रांच के चक्कर लगाते रहता था। लेकिन अब इस एप्लीकेशन के माध्यम से हेल्पलाइन के जरिए वह अपना चोरी गया मोबाइल ब्लॉक करवा सकता हैं।

पुराने फोन की पुष्टि

कई लोग सेकंड हैंड फोन खरीदते हैं या किसी व्यक्ति से पुराना या नया फोन खरीदते हैं, तो उस फोन की जानकारी निकाल लेना भी सही होता है। अगर आप यह जानना चाहते हैं कि जिस फोन को आप खरीदने जा रहे हैं वह चोरी का तो नहीं है, तो इसके लिए को सीईआइआर पोर्टल पर लॉगिन कर आईएमईआई नंबर डालना होगा, जिससे सारी डिटेल आपको मिल जाएगी।

थाने में करें शिकायत

आप कभी फोन गुम हो जाने या चोरी चले जाने की परेशानी में फंसते हैं, तो इसके संबंध में पुलिस को शिकायत करना बहुत जरूरी है। इसके बाद आपको डीओटी के हेल्पलाइन नंबर 14422 पर सूचना देनी होगी और आईएमईआई नंबर मिलते ही आपका मोबाइल फोन ब्लॉक कर दिया जाएगा। अगर आपको आपका फोन वापस मिल जाता है तो आप उसे अनब्लॉक भी करवा सकते हैं। इसके लिए उस नंबर की आवश्यकता पड़ेगी जिससे फोन ब्लॉक करवाया गया था।


About Author
Diksha Bhanupriy

Diksha Bhanupriy

"पत्रकारिता का मुख्य काम है, लोकहित की महत्वपूर्ण जानकारी जुटाना और उस जानकारी को संदर्भ के साथ इस तरह रखना कि हम उसका इस्तेमाल मनुष्य की स्थिति सुधारने में कर सकें।” इसी उद्देश्य के साथ मैं पिछले 10 वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रही हूं। मुझे डिजिटल से लेकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का अनुभव है। मैं कॉपी राइटिंग, वेब कॉन्टेंट राइटिंग करना जानती हूं। मेरे पसंदीदा विषय दैनिक अपडेट, मनोरंजन और जीवनशैली समेत अन्य विषयों से संबंधित है।

Other Latest News