अव्यवस्था के चलते गौशाला में अब तक 15 से अधिक गायों की मौत, आखिर इनकी दुर्दशा का जिम्मेदार कौन?

श्री कृष्ण गौशाला में क्षमता से अधिक गाय होने के वजह से आज 7 गाय व बछड़े ने दम तोड़ दिया। इस गौशाला में गायों की संख्या बढ़ने से उन्हे रखने की व्यवस्था नहीं हो रही है जिसके के चलते अब तक 15 गायों की मौत हो चुकी है।

राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट। राजगढ़ जिले के खिलचीपुर में गौशाला में 15 से अधिक गायों की मौत का मामला सामने आया है। मध्यप्रदेश राजगढ़ जिले के ख़िलचीपुर स्थित श्री कृष्ण गौशाला में क्षमता से अधिक गाय होने के वजह से 7 गाय व बछड़े ने दम तोड़ दिया। खबर के मुताबिक इस गौशाला में गायों की संख्या बढ़ने से टिन शेड कम पड़ रहा है जिसके चलते गाय खुले आसमान के नीचे रहती है। वहीं लगातार हो रही बारिश मे भीगने और खुले में कीचड़ में बैठने से हर दिन करीब 5 से अधिक गायों की मौत हो रही है। अबतक यहां 15 से अधिक गायों की मौत हो चुकी है।

ये भी देखें- कलेक्टर-एसपी के बाद अब ग्वालियर और श्योपुर अपर कलेक्टर का भी तबादला

जानकारी के अनुसार ख़िलचीपुर स्थित श्री कृष्ण गौ शाला में 600 गाय हैं। इस समय आसपास के ग्रामीण अपनी फसल को बचाने के लिए गायों को गाँव से भगाते हुए गौशाला में लाकर छोड़ देते हैं, जिससे गौशाला के क्षमता से अधिक गाय हो गई हैं। श्री कृष्ण गौशाला में अभी 2 हजार गाय से अधिक गाय हैं, जिस वजह से कुछ गाय खुले आसमान के नीचे रह रही हैं, जिसके चलते आये दिन इस गौशाला में गायों की मौत हो रही है। गौशाला में गाय की मौत के बाद गायों को खिलचीपुर नगर के बड़े मेले के ग्राउंड में फिकवाया जा रहा है। लेकिन अब सवाल यही है की आखिर इन गायों की मौत और गौमाता की दुर्दशा का जिम्मेदार कौन है?