नकली दूध बनाने वाली डेयरी पर छापामार कार्रवाई, घातक केमिकल समेत नकली घी-पनीर जब्त

कार्रवाई के बाद डेयरी का सारा सामान जब्त कर मंजेश त्यागी और उसका पार्टनर राकेश त्यागी के खिलाफ जोरा थाने में मामला दर्ज कराया गया है। वहीं डेयरी को सील कर दिया गया है।

मुरैना, संजय दीक्षित। दीपावली का त्योहार नज़दीक आते ही जिले में मिलावट खोर (adulterators) माफिया सक्रिय हो चुके हैं। जिले में दूध, मावा और पनीर में मिलावट धड़ल्ले से चल रही है। खाद विभाग की टीम के द्वारा हर दिन मिलावटखोर कारोबारियों पर छापामार कार्रवाई की जा रही है, लेकिन इसके बावजूद भी ये लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। इसी कड़ी में आज खाद विभाग की टीम ने जौरा कस्बे के रुनीपुर गांव में मिलावटखोरों पर कार्रवाई करते हुए घातक केमिकल से दूध बनाकर बेचने वालों की डेयरी पर छापामार कार्रवाई की है।

ये भी पढ़ें- Jabalpur News : 126 फीट गहरे कुएं में गिरा बच्चा, मौत !

कार्रवाई में खाद विभाग की टीम ने मौके पर 115 लीटर आरएम केमिकल के 7 टिन, एक बोरी में 7 किलो मिल्क पाउडर और 222 लीटर रिफाइंड तेल के टीन मौके से जब्त किए हैं। मिलावटखोर इस रिफाइंड ऑयल को दूध में मिलाकर बेचा करते थे। छापामार कार्रवाई में खाद्य विभाग अधिकारियों की टीम ने मौके से 10 लीटर हाइड्रोजन पर प्रोऑक्साइड केमिकल की एक कट्टी भी बरामद की है। आपको बता दें, यह केमिकल सबसे बड़ा घातक है। इसको खाने के बाद व्यक्ति के शरीर पर हानिकारक प्रभाव पड़ता है। खाद विभाग की टीम को मौके पर 600 लीटर मिलावटी दूध भी मिला है जिसे मौके पर ही नष्ट कर दिया गया है। मौके पर नकली दूध का सैंपल लेकर 30 किलो नकली दूध और उससे बनाने वाला घी भी जब्त किया है।

इस दौरान खाद विभाग के अधिकारी धर्मेंद्र जैन ने बताया कि आरएम केमिकल व हाइड्रोजन प्रो ऑक्साइड केमिकल शरीर के लिए नुकसानदायक होता है। डेयरी का सारा सामान जब्त कर मंजेश त्यागी और उसका पार्टनर राकेश त्यागी के खिलाफ जोरा थाने में मामला दर्ज कराया गया और डेयरी को सील कर दिया गया है।