विधायक अजब सिंह व उनके साथियों पर अपहरण का केस हुआ दर्ज, प्रशासन पर लगाए आरोप

पुलिस ने छानबीन के बाद गोले के मंदिर से युवक को सकुशल वापस लाकर जौरा थाने पहुंचा दिया है।

मुरैना,संजय दीक्षित। सुमावली विधायक काँग्रेस अजब सिंह कुशवाह (congress mla ajab singh) व जिला पंचायत के पूर्व उपाध्यक्ष मानवेन्द्र सिंह सिकरवार (गाँधी) के खिलाफ दीवान सिंह पुत्र परिमाल सिंह कुशवाह मुंद्रावजा की रिपोर्ट पर जौरा थाने में अपहरण का मामला दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़े…एक अंगूठी में 24 हजार से ज्यादा हीरे! गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स डायमंड रिंग

पुलिस के अनुसार फरियादी दीवान सिह पुत्र परिमाल सिंह कुशवाह निवासी मुन्दावजा ने अपने चाचा आदिराम कुशवाह के साथ जौरा थाने में रिपोर्ट की है, कि 16 जुलाई को रात करीब 10 बजे मेरे घर के बाहर एक सफेद स्कॉर्पियो गाड़ी से अजब सिंह कुशवाह विधायक सुमावली एवं मानवेन्द सिंह सिकरवार (गाँधी) के साथ अन्य दो लोग आये, और मेरी माताजी सम्पतिया कुशवाह जनपद सदस्य का चुनाव जीती है, अध्यक्ष पद के लिये दबाव बनाने हेतु मेरे छोटे भाई दरोगा कुशवाह को चुनावी रंजिश पर जबरदस्ती स्कॉर्पियो में बिठा कर अपहरण कर ले गये हैं। जिसका अभी तक कोई पता नहीं चला है।

विधायक अजब सिंह व उनके साथियों पर अपहरण का केस हुआ दर्ज, प्रशासन पर लगाए आरोप

यह भी पढ़े…हिंदुस्तानी दूल्हा रशियन दुल्हन, प्यार के लिए तोड़ी हर सरहद, चार देशों से आए बाराती

मेरा भाई को ये लोग चुनावी दबाव बनाने के लिये अभी तक किसी स्थान पर कैद कर रखे हुये है। इस संबंध में विधायक अजब सिंह कुशवाह व मानवेन्द सिंह सिकरवार से मोबाइल पर संपर्क करना चाहा, तो उन्होंने मोबाइल रिसीव नहीं किया। पुलिस ने छानबीन के बाद गोले के मंदिर से युवक को सकुशल वापस लाकर जौरा थाने पहुंचा दिया है।

यह भी पढ़े…धूप की कमी के बावजूद खराब नहीं होगा घर में बनाया अचार, बस अपना लें ये आसान हेक्स

वही बता दें कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता वृन्दावन सिंह सिकरवार ने प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रशासन के द्वारा मुख्यमंत्री और गृह मंत्री के इशारे पर मेरे बेटे मानवेंद्र गांधी के खिलाफ अपहरण का झूठा मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने बिना जांच किए ही अपहरण का मामला दर्ज कर दिया है, बल्कि उनके परिवार वालों का कहना है, कि दीवान सिंह का कोई अपहरण नहीं किया गया है, वह तो गाड़ी में बैठकर अपनी मर्जी से गया था औऱ पुलिस ने सिटी सेंटर के होटल से युवक को बरामद कर परिजनों को सुपुर्द कर दिया हैं।