गैस कटर से एटीएम काट लाखों उड़ाने वाला आरोपी गिरफ्तार

मुरैना।संजय दीक्षित।

सिविल लाइन थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले के एस मिल के सामने नेशनल हाईवे क्रमांक 3 पर बने स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के एटीएम को गैस कटर की मदद से काटकर उसमें रखे ₹29,93200 चोरी कर लिए गए थे। इसके साथ ही घटना की रात्रि को ही थाना बानमोर क्षेत्र में स्थित इंडिकैश बैंक के एटीएम को काटकर उसमें रखे करीब  ₹6.50 चोरी किए गए ।इसी क्रम में जानकारी मिली कि धौलपुर राजस्थान के थाना निहाल गंज क्षेत्र में घटना वाली रात्रि को ही सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के एटीएम को काटकर उसमें रखे करीब ₹8.50 चोरी किए गए हैं ।उक्त घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक डॉ असित यादव और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आशुतोष बागरी तथा नगर पुलिस अधीक्षक सुधीर सिंह कुशवाह के द्वारा मामलों को गंभीरता से लिया गया। जिसमें थाना प्रभारी सिविल लाइन निरीक्षक विनय यादव, थाना प्रभारी बानमौर उपनिरीक्षक जितेंद्र मावई तथा साइबर सेल और क्राइम ब्रांच की टीम को दिशा निर्देश जारी कर एटीएम काटने वाले आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने के लिए एक टीम गठित की गई। जिसमें आरोपी गणों की तलाशी हेतु थाना सिविल लाइन ,थाना बानमौर तथा क्राइम ब्रांच की टीम द्वारा कठिन परिश्रम करते हुए नेशनल हाईवे पर पड़ने वाले सभी टोल प्लाजा, होटल, लॉज  पर लगे सीसीटीवी की फुटेज खंगाली गई। उक्त फुटेज में सौम्या टोल प्लाजा आगरा, टोल प्लाजा मुरैना तथा जेके टायर कंपनी के गेट पर लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज चेक करते हुए संदिग्ध वाहन क्रमांक dl6q4211 देखी गई। जिस के संबंध में दिल्ली पुलिस से जानकारी प्राप्त की गई तो ज्ञात हुआ कि दिनांक 21/12/19 की रात को उक्त वाहन को कालकाजी क्षेत्र से चोरी किया गया था। जिसके थाना कालकाजी में मामला पंजीबद्ध किया गया है। इसी क्रम में संदिग्ध वाहन में बैठे व्यक्तियों की फोटो सीसीटीवी फुटेज से तैयार करवा पुलिस के मुखबिरों को दी गयी। तो मुखबिर द्वारा सूचना मिली के आरोपी पलवल हरियाणा की तरफ से आए हुए हैं। इसी सूचना पर थाना प्रभारी सिविल लाइन विनय यादव ,थाना प्रभारी बानमौर जितेंद्र मावई तथा क्राइम ब्रांच  प्रभारी मनोज वर्दिया  टीम के साथ हरियाणा रवाना हुए। जहां मुखबीर सूचना के आधार पर पतासी करते हुए ग्राम अदरौला थाना हबीब जिला पलवल हरियाणा के आरोपी मुबारिक पुत्र इदरीश मेव उम्र 30 साल को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से चोरी किए गए करीब ₹9.75 बरामद किए गए। आरोपी ने घटना में अपने साथ अन्य साथी हैदर पुत्र इष्टयाक मेव, खालिद पुत्र फारुख  ,रियाज़  पुत्र जौमु खान का होना बताया है ।चोरी की शेष रकम इन्हीं के पास होनी बताई गई है। जो घटना के उपरांत से ही फरार है। जिसकी गिरफ्तारी हेतु लगातार प्रयास किए जा रहे हैं।आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया है।।