मुरैना में अटल मंत्री बस सेवा ने बसों के संचालन को शुरू करने के लिए केंद्रीय मंत्री को सौंपा ज्ञापन

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) को आज रेस्ट हाउस पर अटल मंत्री बस सेवा समिति ने ज्ञापन सौंपा।

मुरैना, संजय दीक्षित। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) को आज रेस्ट हाउस पर अटल मंत्री बस सेवा समिति ने ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया गया है कि कोविड-19 (COVID-19) की महामारी की दूसरी लहर तेजी से फेल रहे संक्रमण को रोकने के लिए जिला प्रशासन ने संपूर्ण जिला मुरैना (morena) में जनता कर्फ्यू (Janata Curfew) लगाया गया था। जिसके तहत लॉकडाउन (lockdown) की प्रक्रिया अपनाई गई थी। जिससे समस्त जिले में बाजार बंद के साथ ही बसों का आवागमन भी पूर्ण रुप से बंद कर दिया गया था। जिससे क्षेत्रीय जनता को एवं ग्रामीण जनता को आवागमन में असुविधा का सामना करना पड़ रहा था। जबकि कोरोना संक्रमण काफी कम रह गया है तथा बाजार भी खुलने लगे हैं। लेकिन जिला प्रशासन द्वारा बसों का संचालन अभी भी शुरू नहीं किया गया है ।

यह भी पढ़ें…पैसों के लेनदेन के विवाद में चाकू मार उतरा था मौत के घाट, दमोह पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

सीमावर्ती जिले ग्वालियर, श्योपुर, भिंड, दतिया, शिवपुरी व अन्य जिलों में भी बसों का संचालन 1 तारीख से प्रारंभ हो चुका है लेकिन जिला मुरैना में जिला प्रशासन द्वारा बसों के संचालन को अभी मंजूरी नहीं दी गई है। बसों का संचालन ना होने से बस ऑपरेटरों को आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ रहा है तथा अपनी खड़ी बसों का टैक्स क़िस्त एवं बीमा बहन करना पड़ रहा है। बस ऑपरेटरों की मांग है कि बसों के संचालन बंद अवधि का मोटरयान कर माफ करने तथा बंद बसों का संचालन प्रारंभ किया जाए ताकि ग्रामीण जनता को आवागमन की सुविधा मुहैया हो सके।

कृषि कानून पर बोले मंत्री
इधर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने प्रेसवार्ता में बताया कि भारत सरकार का दृष्टिकोण पूरी तरफ साफ है। कृषि कानून किसानों के हित में है। यूनियन के सम्मान में जब कोई प्रस्ताव पारित होगा तो सरकार उनसे बात करने के लिए तैयार है। हमारे सामने जो भी विचार-विमर्श होगा हम उस पर निर्णय करेंगे ।महंगाई को नियंत्रण करने के लिए सरकार की निगाह सभी जिंसों पर है और महंगाई पर नियंत्रण करने के लिए सरकार की तरफ से सभी कार्य किए जा रहे हैं। सरकार ने निर्णय लिया है कि जितना स्टॉक देश में है। उस स्टॉक को भारत सरकार के पोर्टल पर ओपन करना पड़ेगा। प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। निश्चित ही महंगाई पर नियंत्रण करने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। किसानों को महँगी फसलों की ओर जाना चाहिए। किसानों को नई-नई टेक्नोलॉजी का यूज़ करना चाहिए।

सरकार की उठापटक पर केंद्रीय मंत्री बोले कि में समझता हूं कि आपको इसकी सूचना होगी। मुझे तो ऐसी कोई सूचना नहीं है कि कोई विधायक दिल्ली की ओर रवाना हुआ है। और मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) और उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की दोनों सरकार ठीक ढंग से काम कर रही है। किसी को चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) की सरकार सुरक्षित है।

यह भी पढ़ें…रतलाम : मामूली विवाद में दो पक्षों में चली तलवारें, घटना सीसीटीवी में कैद