मुरैना नगर निगम में Congress ने किया कब्जा, इतने वोटों से भाजपा को दी शिकस्त

बाउंसरों की देखरेख में कांग्रेस के पार्षदों को बारी बारी से नवीन कलेक्ट्रेट भवन में दिया गया प्रवेश, चप्पे-चप्पे पर पुलिस की तैनाती

मुरैना,संजय दीक्षित। नगर पालिक निगम मुरैना (Morena Municipal Corporation) में सभापति की कुर्सी पर कांग्रेस (congress) का कब्जा हो गया है, वहीं जिले की तीन नगरीय निकाय में भाजपा व एक पर कांग्रेस ने अध्यक्ष पद पर जीत हासिल की है। वहीं मुरैना में निगम सभापति के पद पर कांग्रेस के राजा दंडोतिया निर्वाचित हो गए हैं।

कांग्रेस की तरफ से सभापति के लिए वार्ड 27 से राधारमण दण्डौतिया को प्रत्याशी बनाया गया तथा भाजपा की तरफ से वार्ड 33 से भावना मंडलेश्वर हर्षाना का नाम रखा गया। दोनों प्रत्याशियों ने नाम निर्देशन प्रस्तुत किया, जिसके बाद वोटिंग की गई, जिसमें कांग्रेस के प्रत्याशी राजा दंडोतिया ने 6 वोटों से जीत दर्ज की। बता दें कि कांग्रेस प्रत्याशी राधारमण डण्डौतिया को 27 वोट मिले, और भाजपा की प्रत्याशी भावना हर्षाना को 21 वोट मिले।

मुरैना नगर निगम में Congress ने किया कब्जा, इतने वोटों से भाजपा को दी शिकस्त

गौरतलब है कि कांग्रेस के पास महापौर सहित 31 वोट थे, लेकिन कांग्रेस प्रत्याशी को 27 वोट मिले, जिसमें 4 वोटों की क्रास वोटिंग हुई है, वही नगर निगम में 47 पार्षद तथा एक महापौर सहित कुल 48 वोट थे। वहीं बाउंसरों की देख-रेख में कांग्रेसी पार्षदों को बस से न्यू कलेक्ट्रेट लाया गया। यहां बाउंसरों ने सभी पार्षदों को बस से उतारकर उन्हें न्यू कलेक्ट्रेट के अन्दर पहुंचाया गया।

कांग्रेसियों को डर था कि कहीं बीजेपी के पदाधिकारी कांग्रेसी पार्षदों को लेकर भाजपा में शामिल ना कर ले इसी डर से बाउंसरों के बीच कांग्रेसी पार्षदों को बारी-बारी से अंदर ले जाया गया। वहीं मुरैना जिले की चार नगर पालिका में अध्यक्ष पद के चुनाव सपन्न हुए है, जिसमें तीन पर भाजपा (पोरसा, कैलारस, सबलगढ़) व झुंडपुरा में कांग्रेस ने जीत दर्ज की है।