चम्बल में डकैतों की दस्तक, तीन जिलों की पुलिस पार्टी रवाना

राजस्थान पुलिस को आशंका है कि अब डकैत केशव सिंह गुर्जर मुरैना जिले की चंबल के बीहड़ इलाके में छुप सकता है। इस संबंध में राजस्थान पुलिस के अधिकारियों ने चंबल आईजी मनोज शर्मा से बात की तो उन्होंने कहा कि मुरैना जिले की चंबल सीमा से लगे सभी थानों में अलर्ट जारी कर दिया है।

मुरैना, संजय दीक्षित| चम्बल (Chamabal) अंचल में एक बार फिर से डकैतों की आवाजाही शुरू हो गयी हैं। कुछ समय पहले डकैतों के आंतक का खात्मा हो गया था लेकिन फिर से चम्बल अंचल में डकैतों का आतंक शुरू हो गया हैं। अभी हाल में ही राजस्थान (Rajasthan) का रहने वाला एक लाख बीस हजार रुपए का इनामी डकैत केशव गुर्जर की चंबल के बीहड़ों में आशंकाएं बढी है।

तीन दिन पहले राजस्थान पुलिस और डकैत केशव गुर्जर से राजस्थान के चंबल के बीहड़ों में मुठभेड़ हुई थी। जिसमें केशव गुर्जर के कुछ साथी घायल हो गए थे लेकिन डकैत केशव सिंह गुर्जर मोके का फायदा उठाकर फरार हो गया। राजस्थान पुलिस को आशंका है कि अब डकैत केशव सिंह गुर्जर मुरैना जिले की चंबल के बीहड़ इलाके में छुप सकता है। इस संबंध में राजस्थान पुलिस के अधिकारियों ने चंबल आईजी मनोज शर्मा से बात की तो उन्होंने कहा कि मुरैना जिले की चंबल सीमा से लगे सभी थानों में अलर्ट जारी कर दिया है।

चंबल आईजी मनोज शर्मा ने बताया कि डकैत केशव सिंह के अलावा 60 हजार का इनामी डकैत गुड्डा गुर्जर भी पहले पहाड़गढ़ इलाके में दस्तक दे चुका है। इसकी भी खोजबीन जारी हैं। उसने कुछ दिन पहले मधुमक्खी पालन करने वाले किसानों के साथ मारपीट कर लूट की घटना को अंजाम दिया था।डकैत गुड्डा गुर्जर इससे पहले भी कई वारदातों को अंजाम दे चुका है । लेकिन अभी राजस्थान और मध्यप्रदेश पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। इसकी गिरफ्तारी को लेकर पुलिस संयुक्त अभियान चला रही है। दोनो की गिरफ्तारी के लिए ग्वालियर, श्योपुर और मुरैना जिले की पुलिस जंगल में सर्चिंग कर रही है।बहुत जल्द ही चम्बल अंचल के लोगों को डकैतों के आतंक से मुक्ति मिलेगी।