कैलारस में नकली दूध की फैक्ट्री पर खाद्य विभाग और पुलिस का छापा, डिटर्जेंट से बना रहे थे दूध, दो सगे भाई गिरफ्तार

मौके पर अधिकारियों को दो सगे भाई मिल गए जो फैक्ट्री का कामकाज संभाल रहे थे। पुलिस ने दोनों के खिलाफ सबलगढ़ थाने में मामला दर्ज करा दिया है।

कैलारस

मुरैना, संजय दीक्षित। मुरैना (Morena) के कैलारस (Kailaras) में खाद्य विभाग (food department) और पुलिस (police) की टीम ने नकली दूध (fake milk) बनाने की फैक्ट्री पर छापामार कार्रवाई की है। बता दें कि जिस वक्त छापा मारा गया उस समय फैक्ट्री के अन्दर डेढ़ सौ लीटर नकली दूध बनाने का घोल रखा हुआ था। उस घोल से करीब सौ लीटर से अधिक नकली दूध बनाने के लिए तैयार किया गया था। खाद्य विभाग और पुलिस की टीम को देखकर फैक्ट्री में काम कर रहे लोगों में भगदड़ मच गई और वे भाग गए। मौके पर अधिकारियों को दो सगे भाई मिल गए जो फैक्ट्री का कामकाज संभाल रहे थे। पुलिस ने दोनों के खिलाफ सबलगढ़ थाने में मामला दर्ज करा दिया है।

यह भी पढ़ें…Ujjain News : इस्कॉन मंदिर में युवक ने फांसी लगाई, सुबह मृदंग बजाया, पूजा की और फिर दे दी जान

डिटर्जेंट का करते थे इस्तेमाल
आपको बता दें, कि दीपावली का त्योहार आते ही जिले में नकली मावा, पनीर व दूध का कोराबार तेजी से बढ़ रहा है। खाद्य विभाग की टीम द्वारा लगभग हर दिन किसी न किसी क्षेत्र में जाकर छापामार कार्रवाई की जा रही है। इस कार्रवाई में सबसे बड़ी बात जो सामने आई है कि नकली दूध बनाने में डिटर्जेंट पाउडर का उपयोग किया जा रहा है जो कि स्वास्थय के लिए बहुत ही हानिकारक होता है। टीम को मौके से 15 टीन आरएम केमिकल के मिले है। यह दूध इसी केमीकल से बनाया जा रहा था। इसके अलावा मिल्क पाउडर भी मिला है जो दूध में मिलाया जाता था। इसके साथ ही रिफाइंड के भी लगभग दर्जन भर से अधिक टीन मिले हैं। दूध बनाने में रिफाइंड भी मिलाया जाता था। इस प्रकार दूध में आरएम केमीकल, डिटर्जेंट पाउडर, रिफाइंड तथा मिल्क पाउडर मिलाकर नकली दूध तैयार किया जाता था।

इन दोनों संचालकों पर हुई कार्रवाई
कार्रवाई के दौरान टीम के सदस्यों ने पूछा कि फैक्ट्री का मालिक कौन है तो दो व्यक्ति सामने आए है जिनका नाम रुप सिंह कुशवाह व राजेन्द्र सिंह कुशवाह है, यह दोनों सगे भाई हैं। इनकी कैलारस में डेयरी है जिसका लायसेंस भी इनके पास है। इसके अलावा घर में यह मिलावटी दूध बनाते थे जिसे यह डेयरी पर ले जाकर बेच देते थे। खाद्य सुरक्षा अधिकारी धर्मेन्द्र जैन ने बताया कि डेयरी के संचालक दोनों सगे भाइयों के खिलाफ कैलारस थाना में मिलावट करने के साथ-साथ धारा 420 के तहत मामला दर्ज करा दिया गया है, वहीं दूध के सैंपल भी लिए गए है।

यह भी पढ़ें…शिक्षकों की मनमानी से अंधकार में सेवढ़ा उत्कृष्ट विद्यालय के छात्रों का भविष्य