रेत माफिया का गुंडाराज, वन विभाग की टीम पर खुलेआम फायरिंग, देखिये सीसीटीवी वीडियो

मुरैना, संजय दीक्षित। एक तरफ पूरा देश प्रदेश कोरोना की मार से परेशान है, वहीं रेत माफियाओं के हौंसले अब भी इतने बुलंद हैं कि वो दिनदहाड़े फायरिंग करने से भी नही चूक रहे। ऐसा ही मामला मुरैना सिविल लाइन थाना क्षेत्र के आरटीओ बैरियर के पास देखने को मिला जिसमें वन विभाग की टीम ने रेत से भरे ट्रैक्टर ट्रॉली को पकड़ने की कोशिश की तो रेत माफियाओं ने सामने से फायरिंग कर दी। इसके बाद वो डंपर में टक्कर मारते हुए रेत से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली छुड़ा ले गए।

भोपाल- रेलवे ने बनाए 20 आइसोलेशन कोच, 25 अप्रैल उपलब्ध होंगे 320 बेड

जानकारी के मुताबिक शनिवार दोपहर करीब 12 बजे चम्बल नदी से अवैध उत्खनन कर रेत से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली देवरी गेम रेंज के सामने से निकल कर जा रही थी। वहीं चंबल अभ्यारण्य देवरी की अधीक्षक श्रद्धा पांढरे एसएएफ बल और उड़नदस्ते के साथ पेट्रोलिंग कर रही थी।तभी देवरी घड़ियाल केंद्र के सामने से रेत से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली जाती हुई दिखाई दी जिसे पकड़ने के लिए उन्होने डंपर और उड़नदस्ता पीछे लगा दिया। दोनों शासकीय वाहनों के पीछे ही अधीक्षक कि गाड़ी चल रही थी। तभी ट्रैक्टर ट्रॉली का पीछा करते हुए आरटीओ बैरियर के पास वन विभाग की टीम पहुंची तो अचानक एक खाली ट्रैक्टर ट्रॉली (स्वराज 735 नीले रंग एवं ट्रॉली हरे रंग) में सवार माफियाओं ने देवरी अभ्यारण की अधीक्षक की गाड़ी पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। इसमें श्रद्धा पांढरे और टीम बाल बाल बची। लेकिन रेत माफिया यहीं नहीं रूके, उन्होने रेत से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली से डंपर को टक्कर मारते हुए ट्रैक्टर ट्रॉली छुड़ा ले गए।

इस पूरे घटना के बाद राष्ट्रीय चम्बल अभ्यारण देवरी की अधीक्षक श्रद्धा पांढरे ने कहा है कि लॉक डाउन में भी रेत माफियाओं के हौंसले इतने बुलंद हैं कि अवैध उत्खनन करने से पीछे नहीं हट रहे हैं। सड़कों पर वाहनों को इतनी तेज स्पीड से दौड़ाते हैं अगर सामने कोई आ जायेगा तो खत्म हो जाएगा। जब इनके खिलाफ कोई कार्रवाई की जाती हैं तो अवैध हथियारों से फायरिंग करते हैं जिससे अधिकारीयों और कर्मचारियों की जान को खतरा बना रहता हैं।शनिवार को एसएएफ के जवानों और उड़नदस्ते के साथ पेट्रोलिंग करते समय रेत से भरे ट्रैक्टर ट्रॉली को पकड़ने की कोशिश की तो रेत माफियाओं ने फायरिंग कर दी। उसके बाद डंपर में टक्कर मारते हुए ट्रैक्टर ट्रॉली छुड़ा ले गए। अब अधीक्षक ने फायरिंग करने वाले असामाजिक तत्वों के खिलाफ थाने में आवदेन दिया है।