मुरैना : जब्त ट्रैक्टर ट्रॉली को सुपुर्द करने गए वन आरक्षक को हवलदार ने एफआईआर की दी धमकी, वीडियो वायरल

दरअसल जब वन आरक्षक जब्त वाहन थाने में रखने गया तो हवलदार द्वारा यह कह कर मना किया गया की यहां जगह नहीं है।

मुरैना, संजय दीक्षित। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में खनन माफियाओं (Mining mafia) पर रोक लगाने के लिए सरकार द्वारा हर अथक प्रयास किए जा रहे हैं, जो कई बार सफल भी हुए हैं लेकिन कई बार सिपहसलार ही माफियाओं को रोकने के बजाय उन्हें बढ़ावा देते हुए नजर आते हैं, जिसके कारण माफियाओं के हौसले और बू;बुलंद हो जाते है, ऐसा ही एक मामला मुरैना (Morena) में देखने को मिला जहां पर जब ट्रैक्टर ट्रॉली को सुपुर्द करने गए वन आरक्षक को हवलदार ने एफआईआर की धमकी दे डाली, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

यह भी पढ़ें…World nurse day पर भिण्ड में पुलिस ने गुलाब देकर सेल्यूट किया तो संघ ने नर्सेज के चरण पखारे

जानकारी के अनुसार चम्बल अभ्यारण की एसडीओ श्रध्दा पांढरे अवैध रेत से भरे ट्रैक्टर ट्रॉलियों को सिविल लाइन थाने में सुपुर्द करने गई थी, लेकिन सिविल लाइन थाने के एचसीएम देवेंद्र शर्मा कहना था कि ट्रैक्टर ट्रॉलियों को थानों में मत रखो यहां से ले जाओ यहां हमारे पास जगह नहीं है। जिसका विरोध करने पर सिविल लाइन थाने के एचसीएम देवेंद्र शर्मा ने वन आरक्षकों को एफआईआर करने की धमकी दे डाली। उनका कहना था कि ट्रैक्टर ट्रॉलियों को थानों में मत रखो यहां से ले जाओ नही तो एक एफआईआर दर्ज कर दूंगा। आप भी देखिये किस तरह सिपाही साहब एफआईआर की धमकी दे रहे है।

वही एसडीओ श्रध्दा पांढरे ने कहा है कि जप्त ट्रैक्टर ट्रॉलियों को थाने में सुपुर्दगी करने गए थे तब हवलदार देवेंद्र सिंह ने स्टाफ के साथ अभद्रता की और एफआईआर दर्ज करने की धमकी दी। जिसके शिकायत वरिष्ट अधिकारियों को कर दी गयी है। खनन माफियाओं पर अंकुश लगाने के लिए एसडीओ श्रध्दा पांढरे अपनी टीम के साथ माफियाओं को पकड़ने के लिए दिन रात मेहनत कर रही है ,लेकिन इसके बाबजूद पुलिस प्रशासन का सहयोग नही मिल पा रहा है।जिस कारण सरेआम अवैध रेत और पत्थर से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली कोरोना कर्फ्यू में धड़ल्ले से निकल रहे हैं। जिन पर अंकुश लगाना कठिन है। इससे पहले भी दो बार रेत माफियाओं के लोगों ने फायरिंग की थी जिसमें बाल बाल बच गयी। इसकी थाने में रिपोर्ट भी दर्ज करायी गयी लेकिन अभी तक कोई आरोपी नही पकड़ा गया है।