अवैध शराब बनाने वाले माफिया पर चला मामा का बुलडोजर, मकान को किया गया जमींदोज

शराब फैक्ट्री से पुलिस ने 220 लीटर ओपी केमिकल, 2800 खाली बोलतें, ढक्कर, व रेपर जब्त किए थे।

मुरैना,संजय दीक्षित। मुरैना (Morena) जिले के रिठौरा थाना पुलिस ने कुछ दिन पूर्व बस्तपुर गांव के धर्मवीर पुत्र कल्याण सिंह गुर्जर को शराब के मामले में गिरफ्तार किया था। जो केमिकल से नकली शराब (liquor mafia) बनाकर उसे गांवों में खपाने का काम करता है। बता दे कि 17 फरवरी को रिठौरा थाना पुलिस ने बस्तपुर के जंगल में चल रही अवैध शराब बनाने की फैक्ट्री पकड़ी।

यह भी पढ़े…हादसा : ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटी, छह वर्षीय बच्ची समेत तीन श्रद्धालुओं की मौत, कई घायल

आपको बता दें कि फैक्टरी सुनसान जंगल में चल रही थी। शराब फैक्ट्री से पुलिस ने 220 लीटर ओपी केमिकल, 2800 खाली बोलतें, ढक्कर, व रेपर जब्त किए थे। चार लाख रुपये कीमत की इस ओपी से नकली शराब बनाकर, नकली बोतलाें में पैक करने के बाद बेची जाती है। इस मामले में पुलिस ने धर्मवीर गुर्जर के अलावा, मिंटू गुर्जर निवासी बड़वारी व किस्सो नाथ गुर्जर निवासी बस्तपुर के खिलाफ आबकारी एक्ट का मामला दर्ज किया था।

यह भी पढ़े…MP Transfer : पुलिस विभाग में तबादले, मिली नवीन पदस्थापना, देखें लिस्ट

पुलिस ने किस्सो और मिंटू गुर्जर को तो मौके से ही पकड़ लिया था, लेकिन मास्टरमाइंड धर्मवीर गुर्जर फरार हाे गया, जिस पर 5000 रुपये का इनाम भी एसपी आशुतोष बागरी ने घोषित किया है। धर्मवीर गुर्जर के खिलाफ पहले से दो आबकारी एक्ट के मामले दर्ज हैं, उसकी खोज में जुटी पुलिस को पता लगा कि अवैध शराब के पैसों से गांव में मकान बनवा रहा है। इस मकान निर्माण के लिए धर्मवीर गुर्जर ने ग्राम पंचायत से भी भवन निर्माण की अनुमति नहीं ली। इन आरोपों के चलते सोमवार को राजस्व व पुलिस की टीम ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए धर्मवीर गुर्जर के निर्माणाधीन मकान को बुलडोजर से एक घंटे के भीतर ही जमींदोज कर दिया। इस मौके पर एसडीएम शिवलाल शाक्य, नायब तहसीलदार , राजस्व विभाग के सहयोग से अपराधी धर्मवीर गुर्जर के अवैध मकान को जेसीबी से तोड़ कर ध्वस्त कर दिया है।