नगर निगम के अकाउंटेंट के यहां लोकायुक्त का छापा, नगदी जेवर और बेहिसाब संपत्ति के सबूत मिले

मुरैना, संजय दीक्षित। नगर निगम में अकाउंटेंट के पद पर कार्यरत संतोष शर्मा के ग्वालियर और मुरैना स्थित करीब आधा दर्जन ठिकानों पर लोकायुक्त ने छापे मारे हैं। शर्मा के खिलाफ भ्रष्टाचार के माध्यम से अर्जित की गई बेहिसाब संपत्ति की कई शिकायतें मिलने के बाद लोकायुक्त ने यह कार्रवाई की है।

कैसे चलता था राज कुंद्रा का अश्लील फिल्मों का कारोबार, पूछताछ में हो रहे खुलासे

आज अलसुबह ग्वालियर लोकायुक्त की टीम ने लगभग आधा दर्जन ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की। इन सभी का कनेक्शन नगर निगम मुरैना के अकाउंटेंट संतोष शर्मा से है। संतोष शर्मा पिछले कई सालों से मुरैना नगर निगम में पदस्थ हैं और उन पर बेहिसाब संपत्ति अर्जित करने की शिकायतें लोकायुक्त को लगातार मिल रही थी। शिकायतों का परीक्षण करने के बाद लोकायुक्त ने यह कार्रवाई की है। प्रारंभिक जांच में लोकायुक्त की टीम को मुरैना व ग्वालियर में संतोष शर्मा के मकानों के अलावा कई अन्य जमीनो के कागजात, एक ट्रैक्टर एजेंसी, नकदी और सोना चांदी मिलने की अपुष्ट खबरें मिली है। लोकायुक्त की टीम सारे ठिकानों पर एक साथ जांच कर रही है और शाम होते होते इस बात का खुलासा हो जाएगा कि आखिरकार संतोष शर्मा ने अपनी नगर निगम की नौकरी के दौरान किस तरह से कितनी अवैध संपत्ति का अर्जन किया है।