व्यापारी से लूट करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, तीन लाख रुपये भी किए बरामद

इसके अलावा दो अन्य साथी अभी पुलिस गिरफ्त से बाहर है।

मुरैना, संजय दीक्षित। नूराबाद थाना क्षेत्र (Noorabad police station area) के सांक नदी पर 29 मार्च को ग्वालियर के बारदाना व्यापारी के साथ हुई लूट का पुलिस ने मंगलवार को खुलासा कर दिया। इस लूट कांड में मुरैना का एक बारदाना व्यापारी शामिल था, जिसने अपने साथियों के साथ मिलकर लूट की घटना को अंजाम दिया था। पुलिस ने आरोपी व्यापारी व उसके दो साथियों को गिरफ्तार कर उनसे लूटे गए तीन लाख रुपये व लूट में प्रयुक्त बाइक व एक स्कूटी को बरामद कर लिया है। इस लूट में शामिल अभी दो आारोपित फरार है। जिनके पास बाकी की रकम बताई जा रही है।

यह भी पढ़े…MP : सीएम शिवराज देंगे सौगात, शहरी और ग्रामीण जनता दोनों को होगा लाभ

आपको बता दें कि ग्वालियर का बारदाना व्यापारी प्रशांत जैन मुरैना गल्ला व्यापारियों को बोरी का बारदाना सप्लाई करता था। तभी 29 मार्च को दुकानदारों से इसकी वसूली करके वापस ग्वालियर जा रहा था। प्रशांत के पास वसूली के 4 लाख 58 हजार रुपये थे। व्यपारी सांक नदी के पास पहुंचा, उसी समय एक बाइक व एक स्कूटी पर सवार होकर आए पांच बदमाशों ने कट्टा अड़ाकर प्रशांत से पैसे लूट लिए। लूट के बाद प्रशांत नूराबाद थाने पहुंचा। जहां उसने पूरी घटना के बारे में जानकारी दी। पुलिस ने इस मामले में अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज कर लूटेरों की तलाश शुरू कर दी तभी प्रशांत के बताई स्कूटी के आधार पर पुलिस ने टोल नाके के सीसीटीवी फुटेज खंगाले। जिसमें पता चला कि यह स्कूटी मुरैना के ही बारदाना व्यापारी सुमित गुप्ता की है।

व्यापारी से लूट करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, तीन लाख रुपये भी किए बरामद

यह भी पढ़े…ग्राम पंचायत में विकास के लिए आई राशि का गोलमाल करने वाले सरपंच एवं सचिव को भेजा जाएगा जेल

पुलिस ने पुरानी हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी आकर सुमित गुप्ता को उसके घर से उठा लिया। उसने इस बारदात में अपने साथी पुरानी हाउसिंग बोर्ड के शिवम शर्मा, भैंसरोली गांव के गोलू उर्फ नंदी सिकरवार तथा दो अन्य साथियों को शामिल किया। इसके बाद एक बाइक व स्कूटी पर सवार होकर हाइवे पर जाकर प्रशांत को लूट लिया। सुमित के बताए नामों के अनुसार पुलिस ने उसके दो साथियों शिवम व गोलू को भी गिरफ्तार कर लिया। इन तीनों से पुलिस ने तीन लाख रुपये बरामद किए है। इसके अलावा दो अन्य साथी अभी पुलिस गिरफ्त से बाहर है। उन दोनों पर भी बाकी की लूटी गई रकम है। जिन्हें पुलिस पकड़ने का प्रयास कर रही है।