बाजरे के खेत में गोली मारकर शव जलाने वाले आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृतक के सिर में गोली मार के हत्या करना बताया गया था,जिसपर पुलिस ने मामले को दर्ज करने के बाद जांच शुरु कर दी थी।

मुरैना, संजय दीक्षित। जिले के दिमनी थाना क्षेत्र के लहर के पास नहर के किनारे बाजरा के खेत में अज्ञात युवक की अदजली लाश मिलने से सनसनी फैल गई। दिमनी पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को जांच में ले लिया गया था। अज्ञात व्यक्ति की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृतक के सिर में गोली मार के हत्या करना बताया गया। जिस पर से अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर विवेचना में लिया गया।अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझाने में पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ हंसराज सिंह के कुशल मार्गदर्शन में थाना दिमनी पुलिस द्वारा अज्ञात मृतक की शिनाख्त करने वाले अज्ञात आरोपी को गिरफ्तार करने में आज सफलता हासिल की है।

पुलिस को जानकारी मिली कि जिला भिंड के थाना उमरी क्षेत्र के ग्राम सिंगपुरा से सत्यवीर सिंह पुत्र रघुवीर सिंह भदोरिया उम्र 24 साल कुछ दिन पूर्व घर से बाहर जाने की कहकर निकला था। जिसके वापस घर नहीं लौटने पर उनके परिजनों ने थाना उमरी पर गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। जिस पर पुलिस ने गुमशुदगी के परिजनों से पूछताछ की गई एवं दिमनी थाना पहुंचकर मृतक के कपड़े, जूते एवं अन्य सामान की पहचान करने के लिए बुलाया गया। चूकिं गुमशुदा सत्यवीर के अज्ञात शव को जमीन में दफनाया गया था । जमीन से निकलवा कर मृतक के शव को देखकर परिजनों द्वारा सत्यवीर भदौरिया पुत्र रघुवीर सिंह भदौरिया उम्र 24 साल निवासी सिंगपुरा थाना उमरी जिला भिंड का होना बताया गया।अज्ञात आरोपी के संबंध में उप पुलिस अधीक्षक मानवेंद्र सिंह कुशवाह के मार्गदर्शन में दिमनी थाना प्रभारी जितेंद्र नगाईच द्वारा हत्या के आरोपी रिंकू पुत्र भगवती शुक्ला उम्र 32 साल निवासी मिश्रन का पुरा थाना दिमनी को गिरफ्तार कर हत्या में प्रयुक्त देसी कट्टा तथा मृतक की मोटरसाइकिल जब्त की गई है।

आरोपी रिंकू शुक्ला ने बताया कि करीब 2 वर्ष पूर्व अपने परिवार सहित पुरानी हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी मुरैना में निवास करता था और सीवर लाइन बिछाने के काम में ठेकेदार को मजदूर उपलब्ध करवाता था। आरोपी के दो छोटे बच्चे थे जिन्हें ट्यूशन पढ़ाने के लिए पड़ोस की एक युवती आरोपी के घर पर आती थी। जिससे धीरे-धीरे आरोपी की घनिष्ठता बढ़ गयी और आरोपी उसे बेहद प्यार करने लगा जब इसकी भनक युवती के परिजनों को लगी तो उन्होंने युवती का ट्यूशन पढ़ाने के लिए जाना बंद कर दिया और उसे अपने गांव भेज दिया। आरोपी एवं युवती के परिवार में तनाव हो जाने से आरोपी रिंकू मुरैना छोड़कर मिश्रन गांव में अपने परिवार को लेकर चला गया,तभी जून के महीने में युवती की शादी सत्यवीर भदोरिया उम्र 24 साल निवासी सिंगपुरा भिंड से हो गई ।जब रिंकू शुक्ला को इस बात का पता चला तो उसने मन ही मन सत्यवीर को ठिकाने लगाने की ठान ली। तभी आरोपी रिंकू ने सत्यवीर को मुरैना में काम दिलाने के बहाने बुलाया और सत्यवीर भदौरिया को मोटरसाइकिल पर ले जाकर नहर की पटरी पर घटनास्थल पर लाया और योजना के मुताबिक घटनास्थल के पास लेजाकर सत्यवीर को लात मारकर नहर के किनारे बाजरे के खेत में गिरा दिया और आरोपी रिंकू ने उसे गोली मार दी। शव की पहचान छिपाने के लिए शव पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी। जिससे शव की पहचान ना हो सके।