Morena : पुलिस ने गन्दे पानी से कच्ची शराब बनाने वाली भट्टी पकड़ी, फरार आरोपियों की तलाश जारी

नूराबाद थाना प्रभारी शैलेंद्र गोविल को मुखबिर द्वारा सूचना मिली थी कि नाऊपुरा के बीहड़ों में भारी पैमाने पर अवैध शराब बनाने का कारोबार चल रहा है , जिसके बाद मौके पर विशेष टीम को कार्रवाई के लिए भेजा गया।

मुरैना, संजय दीक्षित।  नूराबाद थाना पुलिस ने कच्ची व जहरीली शराब का कारोबार करने वालों पर छापामार कार्रवाई करते हुए करीब 1000 लीटर कच्ची शराब जब्त की है। कच्ची शराब पकड़ने गई पुलिस को करीब 2 घंटे तक पैदल बीहड़ में चलना पड़ा। पुलिस ने बीहड़ों के बीच 6 ड्रम कच्ची शराब से लेकर भट्टी पर बनती हुई एक ड्रम शराब जब्त की हैं।

नूराबाद थाना प्रभारी शैलेंद्र गोविल को मुखबिर द्वारा सूचना मिली थी कि नाऊपुरा के बीहड़ों में भारी पैमाने पर अवैध शराब बनाने का कारोबार चल रहा है  ।मुखबिर की सूचना के बाद विशेष टीम कार्रवाई के लिए भेजी गई। टीम नाउपुरा से दूर सांक नदी किनारे बेहड़ में पहुंची तो कच्ची शराब बनाने वाली भट्टी की लोकेशन मिली, लेकिन वहां पहुंचने का रास्ता भी नहीं था। जहां पुलिस को चार पहिया व दो पहिया वाहन ले जा सके।

ऐसे में थाना प्रभारी शैलेंद्र गोविंद अपनी टीम के साथ 2 घंटे तक पैदल चलकर बीहड़ मर मौके पर पहुंचे ।जहां नदी किनारे पानी के आसपास हरियाली के बीच बीहड़ों में भट्टी जल रही थी । जिस पर एक ड्रम शराब बन रही थी और  पास में ही 6 ड्रमों में बनी हुई कच्ची शराब भी भरी हुई थी।

6 ड्रमों में कुल 1000 लीटर से ज्यादा कच्ची शराब थी जिसकी कीमत करीब एक लाख रुपए है ।सबसे बड़ी खास बात यह रही कि शराब के लिए जो पानी उपयोग किया जा रहा था तो वह पीने लायक नहीं था। पानी की मोटर से नदी किनारे के भरकों से पानी खींचकर ड्रमों में भर कर उससे कच्ची शराब बनाई जा रही थी। कच्ची शराब बनाने के बाद आसपास के गांवों में ख़फ़ाई जाती थी।

कच्ची शराब बनाने वाले माफियाओं ने पुलिस को दूर से ही देख लिया और बीहड़ के रास्ते से भाग गए। जांच पड़ताल के बाद पुलिस ने नाऊपुरा नरेश गुर्जर व सूरज भान गुर्जर पर अवैध शराब बनाने और बेचने की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।पुलिस ने मौके पर लोहे के ड्रम,प्लास्टिक की कट्टीया,पानी की मोटर आदि सामान जप्त किया हैं। फरार आरोपियों की तलाश की जारी हैं।उक्त कार्रवाई  थाना प्रभारी शैलेंद्र गोविल, उपनिरीक्षक रामदास सिंह गुर्जर, आरक्षक करतार, रजनीश ,रणधीर सिंह जाट ,अजय सिंह ,सोनू सिंह ,मनोज सिंह, भूपेंद्र सिंह और सुनील सिंह की अहम भूमिका रही।