पुलिस की दबिश, चोरी के सोने चांदी के आभूषण और नगदी सहित 12 लाख का माल बरामद

मुरैना/संजय दीक्षित

मुरैना पुलिस महा निरीक्षक मनोज शर्मा, पुलिस उपमहानिरीक्षक चंबल रेंज राजेश हिंगडकर, पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया द्वारा उक्त थाना क्षेत्र में घटित नकबजनी चोरियों की वारदात का खुलासा करने के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हंसराज सिंह और एसडीओपी सुजीत सिंह भदोरिया के निर्देशन में टीम बनाकर चोरीयों का पर्दाफाश करने के निर्देश दिए।इसी निर्देशन ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हँसराज सिंह ने तीनों थानों की अलग अलग टीम बनाकर आरोपियों को पकड़ने के निर्देश दिए गए। इसी निर्देशन में थाना प्रभारी बागचीनी, थाना प्रभारी चिंनोनि और थाना प्रभारी देवगढ़ , जौरा ,सिविल लाइन और झुंडपुरा की अलग अलग टीम बनाकर आरोपियों की धरपकड़ के लिए संयुक्त कार्यवाही करते हुए अलग-अलग क्षेत्रों में दबिश दी, तो करीब 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने सयुंक्त कार्यवाही करते हुए 6 लाख 36 हज़ार नगदी और 5 लाख 45 हज़ार के जेवरात बरामद किए हैं जिसमें दोनों की कुल कीमत करीब 11 लाख 81 हज़ार रुपए बताई गई है। पकड़े गए आरोपियों में बद्री पुत्र फौजदार सिंह गुर्जर निवासी ग्राम खुलावली थाना देवगढ़ ,मुकेश गुर्जर पुत्र प्रवीण गुर्जर उम्र 24 साल निवासी बरेला पुरा धौलपुर, सोनू पुत्र प्रवीण गुर्जर उम्र 20 साल निवासी बरेला पुरा धौलपुर, लालू उर्फ अरविंद सिकरवार पुत्र चरण सिंह सिकरवार निवासी वैदपुरा गले था, नरेश गुर्जर पुत्र केशव गुर्जर निवासी ग्राम खुलावली को गिरफ्तार किया गया एवं आरोपी बद्री पुत्र फौजदार सिंह गुर्जर से एक अवैध कट्टा एक मोटरसाइकिल जप्त की गई है। वही फरार आरोपी बंटी गुर्जर, रिंकू गुर्जर, भोटा गुर्जर, हरेंद्र गुर्जर, देवेंद्र गुर्जर, सुरेंद्र गुर्जर, सुजान गुर्जर नि मुरहन का पुरा और सुरेंद्र गुर्जर नि खुलावली के फरार बताए गए हैं।

पकड़े गए आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि धौलपुर क्षेत्र से चंबल के कम पानी से निकलने वाले रास्ते का प्रयोग करके देवगढ़ के आस पास के क्षेत्र के रिश्तेदारों के गांव में आउटर में स्थित घरों को टारगेट बनाते थे और अंधेरी रात में गांव के किसी छुपने वाले स्थान पर शाम को आकर रात होते ही घटना को अंजाम देते थे। इसके बाद उसी रास्ते से पैदल और मोटरसाइकिल से वापस जाकर बाड़ी धौलपुर में ज्वेलरी को बेच देते थे। ज्वेलर आशीष पुत्र राधावल्लभ सोनी निवासी बाड़ी और राधा वल्लभ सोनी निवासी बाड़ी जिला धौलपुर को आरोपियों से पूछताछ पर से चोरी का माल खरीदने का आरोपी बनाया गया है।