रामेश्वरम से ट्रक चला कर अयोध्या जा रही राजलक्ष्मी पहुंची मुरैना, हुआ भव्य स्वागत

613 किलो ग्राम वजनी का घंटा अयोध्या ले जा रहीं राजलक्ष्मी, 17 सितंबर से शुरु किया था सफर

मुरैना,संजय दीक्षित। रामेश्वरम से राम जन्मभूमि अयोध्या तक 4 हजार 552 किलोमीटर तक खुद ट्रक चला कर जा रही राजलक्ष्मी मुरैना हाउसिंग बोर्ड स्थित शहीद संग्रहालय पर पहुंची। वहां उनका संत समाज परिषद व अन्य समाजसेवियों ने भव्य स्वागत किया और सभी लोगों के भोजन की व्यवस्था भी की। ज्ञात रहे कि लीगल राइट्स काउंसिल ऑफ इंडिया की नेशनल जनरल सेक्रेट्री राजलक्ष्मी मंदा ने अपनी राम रथ यात्रा 17 सितंबर को शुरू की थी और गुरुवार को वह खुद ट्रक चला कर मुरैना पहुंची ।जहां उनका सभी लोगों ने भव्य स्वागत किया।

राजलक्ष्मी मुरैना से राजस्थान होती हुई 7 अक्टूबर को राम जन्मभूमि अयोध्या पहुंचेंगी। इस राम रथ यात्रा में 613 किलो का पीतल का घंटा और चांदी की मूर्तियों से बना राम दरबार रामेश्वरम से अयोध्या के लिए ले जाया जा रहा है। इस यात्रा में देश भर के लीगल काउंसल के करीब 12 सदस्य शामिल हुए हैं। स्वागत के दौरान राजलक्ष्मी मंदा ने चर्चा में कहा कि हिंदू सभ्यता व संस्कृति सबसे महान है। अयोध्या में बनने जा रहे राम मंदिर के लिए तैयार इस बेल को हम हिंदू समुदाय की आस्था के रूप में समर्पित करेंगे ।21 दिन में 10 राज्यों से होते हुए करीब 4552 किलोमीटर का सफर करते हुए 7 अक्टूबर को अयोध्या पहुंचेंगे और विधि विधान से 613 किलोग्राम के घंटे को रामलला के दरबार में चढ़ाया जाएगा।