मुरैना, नितेंद्र शर्मा। बानमोर तहसील में तहसीलदार द्वारा अपने ही कर्मचारियों के उत्पीड़न का मामला सामने आया है। करीब 45 पटवारियों द्वारा तहसीलदार सर्वेश यादव के ऊपर अमर्यादित, अभद्रतापूर्ण एवं व्यावहारिक विवादित कार्यप्रणाली का आरोप लगाते हुए एसडीएम से शिकायत की गई है।

मुरैना- पोषण आहार में धांधली, सत्तू के नाम पर दिया जा रहा आटा

मामले में पटवारी ओमप्रकाश का कहना है कि वह जब किसी काम से तहसीलदार साहब के पास गए तो तहसीलदार द्वारा उनके संग में अभद्र व्यवहार किया गया और उन्हें ऑफिस से बाहर निकाल दिया गया। वहीं दूसरी तरफ रामबाबू एवं हाकिम सिंह नाम के व्यक्तियों ने आरोप लगाया है कि जब वो अपने कार्य से तहसीलदार के पास गए तो तहसीलदार ने काम करने के बदले पैसों की मांग की। जब रामबाबू एवं हाकिम सिंह इसमें अपनी असमर्थता दर्शायी तब तहसीलदार द्वारा उन्हें भी अपमानित कर केबिन से बाहर निकाल दिया गया। अब पटवारियों द्वारा तहसीलदार को हटाने के लिए एसडीएम को लिखित में शिकायत देते हुए तुरंत कार्रवाई करने की मांग की हैै। वहीं पटवारियों का ये भी कहना है कि जब वो मामले की शिकायत करने कलेक्टर साहब के पास पहुंचे तो उनके द्वारा कह दिया गया कि  जाकर एसडीएम से मिलो। पटवारी संघ ने चेतावनी दी है कि अगर 3 दिनों में तहसीलदार के ऊपर कोई कार्रवाई ना हुई तो वह डीएम ऑफिस के बाहर कलम बंद आंदोलन कर धरना देंगे।