बहन के ससुराल पक्ष ने मायके वालों पर किया लाठियों से हमला, रिपोर्ट कराने गए तो TI ने थाने से भगाया

हैरान करने वाली बात यह है कि जब पीड़ित मायके वाले इस मामले की रिपोर्ट करने थाने गये तो वहां मौजूद टीआई ने उन्हें वहां से भगा दिया।

मुरैना, संजय दीक्षित। मुरैना (Morena ) में सिविल लाइन थाना क्षेत्र के खनेता गांव (khaneta village) में लड़की के ससुराल वालों ने मायके पक्ष के लोगों पर लाठियों से हमला (Attack) कर दिया।जिससे चार लोग घायल हो गए। घायलों का जिला अस्पताल (district hospital) में उपचार किया जा रहा है। वहीं हैरान करने वाली बात यह है कि जब पीड़ित मायके वाले इस मामले की रिपोर्ट करने थाने गये तो वहां मौजूद टीआई (TI) ने उन्हें वहां से भगा दिया।

यह भी पढ़ें…Ratlam News :लाश बदलने को लेकर जिला अस्पताल में परिजनों का हंगामा, पुलिस की समझाइश के बाद हुआ शांत

सर फोड़ा, हांथ तोड़ा
लड़की के भाई संजीव खान ने बताया कि ससुराल वाले बहन रोजी के साथ मारपीट कर प्रताड़ित करते थे। प्रताड़ना से तंग आकर बहन रोजी ने घरवालों को फोन करके कहा कि मुझे ससुराल से ले जाओ। आज सुबह करीब 9 बजे भाई सलमान, रसी बानो व मेंहदी हसन उसे लेने ससुराल गए तो ससुराल वालों ने उन पर हमला बोल दिया। हमले में मेंहदी हसन का हाथ तोड़ दिया व भाई सलमान का सिर फोड़ दिया। जिसके बाद सभी घायल अवस्था मे सिविल लाइन थाने पहुंचे तो पुलिस ने जिला अस्पताल में उपचार के लिए भेज दिया है।

भाई संजीव खान ने जानकारी देते हुए बताया कि रोजी की शादी खनेता गांव के निवासी सद्दाम के साथ की थी। सद्दाम दो तीन दिन से लगातार मारपीट कर रहा था। इस पर रोजी ने अपने मायके पक्ष के लोगों को फोन कर पति के द्वारा पिटने के बारे में सारी जानकारी दी। सलमान मंगलवार को अपने माता-पिता व भाई के साथ रोजी के घर पहुंचा तथा उससे हाल-चाल पूछा। हाल-चाल पूछने पर रोजी ने रोतेे हुए पूरी कहानी बता दी। रोजी ने बताया कि उसका पति सद्दाम उसे लगातार प्रताड़ित कर रहा है तथा पिछले दो तीन दिन से मारपीट कर रहा है। इस पर सलमान व उसका भाई संजीव और उसके माता-पिता मेंहदीहसन व रसी बानो ने रोजी सेे कहा कि चलो तुम हमारे साथ घर चलो। वह उसे अपने साथ ले जाने लगे तो इसी बात पर रोजी का पति सद्दाम भड़क गया और सलमान व उसके भाई और माता-पिता को गालियां देना शुरु कर दिया। जब सलमान ने सद्दाम को गाली देने से मना किया तो सद्दाम के पिता ईसव व मामा सामीन ने मिलकर उन लोगों पर लाठीयों से हमला बोल दिया। इस हमले में चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।

यह भी पढ़ें…Jabalpur News : हिस्ट्रीशीटर अब्दुल रज्जाक के बेटे सरताज का राइट हेंड गिरफ्तार

टीआई ने थाने से भगाया
सलमान ने बताया कि उसके बाद जब हम थाने पहुंचे तो पुलिस ने कहा पहले अस्पताल जाओ। सिविल लाइन थाने में हमारी रिपोर्ट नहीं लिखी गई। पुलिस ने कहा कि पहले अस्पताल जाओ इलाज करवाओ उसके बाद आना। हमें टीआई ने थाने से भगा दिया। इस पूरे मामले में टीआई विनय यादव का कहना है कि एफआईआर हो गई है अब मामला उन लोगों के हाथ में है। यह पति-पत्नी का झगड़ा था और वे लोग उसे लेने गए थे, इस पर ससुराल वालों ने मारपीट कर दी थी। फिलहाल घायलों का जिला अस्पताल में उपचार चल रहा है।