इस नेता ने हार के बाद लगाया अपनी ही पार्टी पर आरोप, कहा- बीजेपी की सेकेंड लीडरशिप ने धोखा दिया

पूर्व विधायक

मुरैना, संजय दीक्षित। उपचुनाव में हार के बाद बीजेपी प्रत्याशी रघुराज सिंह कंसाना (Raghuraj singh kansana) का गुस्सा फूट पड़ा है। उन्होने आरोप लगाया है कि मुरैना में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने तो काम किया लेकिन सेकेंड लाइन की लीडरशिप ने उन्हें धोखा दे दिया, जिस कारण वो चुनाव हार गए।

बता दें कि मुरैना विधानसभा (muraina assembly) से भाजपा (bjp) के रघुराज सिंह कंसाना उपचुनाव में हार गए हैं। उन्हें कांग्रेस (Congress) के राकेश मावई (rakesh mawai) ने साढ़े पांच हजार से अधिक वोट से हराया है। इसके बाद अब रघुराज कंसाना ने मुरैना जिले के नेताओं और मंडल स्तर के नेताओं पर सवाल उठाए हैं। उन्होने कहा कि उपचुनाव में इन्होने बीजेपी की पीठ में छुरा घोंपने का काम किया है। कंसाना ने कहा कि मुझे चुनाव हराने वाले सभी नेताओं के नाम पार्टी नेतृत्व को मालूम है और उम्मीद है कि अब ऐसे नेताओं पर कार्रवाई की जाएगी। उन्होने कहा कि मैंने बीजेपी के नेताओं के सामने अपनी बात रखी है, उन्हें बताया है कि चुनाव में फोन कर कर कार्यकर्ताओं से मेरे खिलाफ काम करने को कहा गया। कंसाना ने कहा कि बीजेपी नेतृत्व द्वारा अगर ऐसे नेताओं के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई तो पार्टी को आने वाले समय में इसके दुष्परिणाम भुगतने पड़ेंगे।