विपक्ष पर बयानों का सिलसिला जारी, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस को लेकर कही ये बात

इंदौर, आकाश धोलपुरे। बीते दिन दो दिवसीय दौरे पर बुधवार शाम को इंदौर पहुंचे प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने पूर्व सीएम कमलनाथ और कांग्रेस पर सवाल उठाए। तो वहीं आज गुरुवार को भी वो विपक्ष पर जमकर बरसे।

ये भी पढ़ें- National Education Day : 11 नवंबर को ही क्यों मनाते हैं? जानिए राष्ट्रीय शिक्षा दिवस का इतिहास

दरअसल 15 नवंबर को भोपाल के जम्बूरी मैदान पर होने वाले जनजातीय गौरव दिवस आयोजन के दौरान पीएम मोदी की यात्रा को लेकर जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के साथ बैठक कर उन्होंने गुरुवार विशेष दिशा निर्देश दिए। रेसीडेंसी कोठी पर आयोजित बैठक के बाद उन्होंने मीडिया से बात की और सलमान खुर्शीद से लेकर दिग्विजयसिंह पर भी निशाना साधा। इस दौरान प्रदेश के गृहमंत्री ने कहा कि- मध्यप्रदेश में हम सबके के बीच वैश्विक नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आ रहे है। 15 नवंबर को जनजातीय दिवस है और पीएम का आभार है कि उन्होंने इस दिन को पूरे देश में मनाने का निर्णय किया है। जिसकी शुरुआत मध्यप्रदेश से हो रही है। पहले से सीएम द्वारा घोषणा की गई थी उसी संबंध में आज बैठक रखी गई थी।

विपक्ष पर जमकर साधा निशाना

नरोत्तम मिश्रा ने सलमान खुर्शीद की किताब को लेकर कहा कि सलमान खुर्शीद हो या दिग्विजयसिंह, ये किताब इसलिए छापी होगी ताकि कंट्रोवर्सी हो क्योंकि ये सब तुष्टिकरण की राजनीति के पोषक है। देश के अंदर जितना बिखराव और अलगाव ये लोग पैदा करते है उतना कोई नहीं करता। कांग्रेस के लोग, गांधी परिवार टुकड़े-टुकड़े गैंग के समर्थक हैं। उन्होंने कहा कि सबसे पहले राहुल गांधी कन्हैया कुमार से मिलने गए थे, फिर केजरीवाल गए थे। ये सब कम्युनिस्ट विचारधारा के लोग हैं। ये चाहते है कि देश जातियों में बंट जाए, हिन्दू शब्द विलोपित हो जाये, हिन्दू धर्म की आस्थाएं खंडित हो जायें। ये देश को खंड-खंड का करना चाहते हैं।

वही राज्यसभा सांसद दिग्विजयसिंह द्वारा बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी पर की गई टिप्पणी को लेकर डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि दिग्विजयसिंह लादेन जी, ओसामा जी, बटाला हाउस पर बोलकर प्रेम पैदा करते हैं। वही उन्होंने कहा कि उज्जैन के अंदर दिग्विजयसिंह को पाकिस्तान जिंदाबाद नही बल्कि काजी साहब जिंदाबाद के नारे सुनाई दे रहे थे। ये दिग्विजयसिंह और सलमान खुर्शीद जानबूझकर ऐसा करते है, इसलिए जनता इनको हर बार समेट देती है और दो तिहाई सीटे इनके खिलाफ देती है।

सिनेमाघरों और फायर सेफ्टी को लेकर गृहमंत्री ने कही ये बात

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सिनेमाघरों की 50 प्रतिशत क्षमता को लेकर इंदौर में कहा कि बहुत जल्द ही 50 प्रतिशत की बाध्यता को समाप्त कर रहे हैं। इस मामले में रिपोर्ट मंगाई गई है और एक दो दिन में इस पर निर्णय ले लिया जाएगा। वहीं फायर सेफ्टी को लेकर गृहमंत्री ने कहा कि इस विषय पर प्रदेश के सीएम ने फायर सेफ्टी को लेकर समीक्षा की है और उन्होंने इसकी समग्र नीति बनाने के निर्देश दिए है। फायर सेफ्टी के मामले में दो अलग-अलग तरह के कार्य है। इंदौर और भोपाल के चार सरकारी विभाग ऐसे है जिन्हें गृह विभाग देखता है और बाकि के स्थान ऐसे है जिन्हें नगर निगम, नगर पालिका देखते है। इसमें एकरूपता लाने के लिए कल सीएम ने निर्देश दिए हैं।

वहीं सरकारी अस्पतालो का आधुनिकरण करने की बात भी इंदौर में गृहमंत्री ने कहीं। इधर, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विवेक तन्खा द्वारा हमीदिया मामले में जिम्मेदारो की गिरफ्तारी को लेकर किये गए ट्वीट पर नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि- स्वभाविक है कि वो ट्वीट ही कर सकते हैं, इसलिए ट्वीट कर रहे हैं।

कुल मिलाकर इंदौर में प्रदेश के गृहमंत्री और इंदौर के प्रभारी मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने विपक्ष पर जमकर तीक्ष्ण बाण छोड़े हैं, जिसका विपक्ष पर क्या असर होगा ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा। फिलहाल, ये कहा जा सकता है गृहमंत्री के बयानों पर आने वाले समय विपक्ष जमकर बयानबाजी करेगा जिसके बाद प्रदेश में राजनीति गरमा सकती है।