MP के राजगढ़ जेल में होली की हुड़दंग, धारा 144 और प्रशासन के आदेश को ठेंगा

मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिला जेल में कैदी होली का जश्न मनाते और डीजे की धुन पर ठुमके लगाते दिखे जहां जेल के अंदर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ती दिखी।

राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट। एक और जहां देश मे कोरोना (Corona) को लेकर देश के प्रधानमंत्री (PM) सहित मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj) ने मध्यप्रदेश (MP) में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर लोगो से अपील करते हुए कहा कि इस बार की होली सार्वजनिक स्थान पर भीड़ जमा न करते हुए सोशल डिस्टेंस का पालन करें और होली अपने घर पर ही रह कर मनाएं। लेकिन राजगढ़ जिला जेल (Rajgarh Jail) में इसका बिल्कुल उल्टा नज़ारा देखने को मिला।

यह भी पढ़ें…Barwani News : घरेलू विवाद में पिता ने अपने ही बच्चे को गुमशुदा बताकर पुलिस को सौंपा

मध्यप्रदेश के राजगढ़ में तो जेल प्रशासन ने सरकार की एक अपील को ठेंगा दिखा दिया। मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिला जेल से (Rajgarh Jail) जेल प्रशासन की बड़ी लापरवाही की तस्वीरें सामने आई है। जहां राजगढ़ में कोरोना के लगातार बढ़ते मामले को देखकर राजगढ़ कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने जिले में धारा 144 के लगा रही है ,बावजूद उसके राजगढ़ की जेल के अंदर होली के दिन होली का जश्न मनाने के लिए डीजे लगवाया गया और कैदियों की एक साथ भीड़ होली का जश्न मनाते हुए डीजे की धुन पर जमकर ठुमके लगाते नजर आए, इस होली के जश्न में भंग तब पड़ गया जब किसी ने जेल के अंदर होली का जश्न मनाने का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। अब ऐसे में जेल प्रशासन पर इस वीडियो के सामने आने के बाद कई सवाल खड़े हो रहे हैं कि आखिर बिना परमिशन के जेल के अंदर डीजे कैसे लगा और एक जगह पर एक साथ बिना मास्क के इन कैदियों की भीड़ को ऐसे जश्न मनाने की परमिशन आखिर किसके आदेश पर मिली।

MP के राजगढ़ जेल में होली की हुड़दंग, धारा 144 और प्रशासन के आदेश को ठेंगा

यह लापरवाही वाला जश्न भी ऐसे समय में मनाया जा रहा था, जब देश में लगातार कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। जिसको लेकर राजगढ़ कलेक्टर (Rajgarh Collector) नीरज सिंह व राजगढ़ एसपी (Rajgarh SP) प्रदीप शर्मा ने भी लोगों से सोशल डिस्टेंस के साथ अपने घर पर रहकर होली मनाने की अपील की थी, बावजूद उसके ऐसी लापरवाही की तस्वीर राजगढ़ जेल से सामने आना कई सवाल खड़े करती है ,ऐसे में यदि एक साथ ,एक जगह, पर बिना मास्क के डीजे की धुन पर जश्न मनाना कैदियों की जान पर भी भारी पड़ सकता है। यदि इस भीड़ में या बाहर से साउंड लगाने आए कोई भी व्यक्ति पॉजिटिव निकल गया तो यह इन कैदियों की जान पर भी भारी पड़ सकता है, बता दें कि जेल के अंदर ठुमके लगाने वाली कैदियों की यह तस्वीर जश्न मनाने के दौरान किसी ने मोबाइल से वीडियो बनाकर उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। लेकिन अब सवाल यह भी उठता है कि आखिर में जब जेल के अंदर मोबाइल ले जाने पर प्रतिबंध है तो आखिर में जेल के अंदर वीडियो बनाने वाला मोबाइल कैसे जेल के अंदर ले गया। जबकि राजगढ़ में कोरोना से 73 लोग अपनी जान गवा चुके है। राजगढ़ जेल में अभी 426 पुरुष कैदी और 24 महिला कैदी बंद है ।

राजगढ़ में प्रशासन ने जहां जिले में धारा 144 लगा रखी है। वहीं पर होली को सामूहिक रूप से खेलने पर भी प्रतिबंध लगाया। राजगढ़ कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने सभी से परिवार के साथ में होली खेलने की अपील की । वही राजगढ़ एसपी प्रदीप शर्मा ने सभी थानों में आदेश जारी करते हुए किसी को भी धुलेड़ी खेलने से मना किया । ऐसे में इस बार पुलिस की होली ही नहीं मनी, वहीं प्रशासन के आदेशों का सभी समाज संगठन ने पालन करते हुए इस बार होली का त्यौहार घर पर ही मनाया । लेकिन राजगढ़ जिला जेल की यदि बात करे तो यहां जेल प्रशासन ने कोरोना वायरस को लेकर रखी जाने वाली सावधानियों के सारे नियम तोड़ते हुए होली मनाई गई। इस पूरे मामले में खास बात यह है, होली जेल कॉलोनी या फिर किसी गार्डन में नहीं बल्कि जिला जेल के अंदर कैदीयो के बीच मनाई गई। जिसमें न सिर्फ जेल प्रबंधन से जुड़े हुए लोग शामिल थे।बल्कि कैदीयो ने भी जमकर यह जश्र मनाया।

यह भी पढ़ें…Corona संक्रमण में मध्यप्रदेश देश में तीसरे नंबर पर, नीति आयोग के सदस्य ने दी चेतावनी