MP: प्रदेश का बदतर हेल्थ सिस्टम, मासूम के शव को नहीं मिली एंबुलेंस, बेड पर सो रहा डॉगी

मध्य प्रदेश की अलग-अलग जगहों से हेल्थ सिस्टम की खराब हालत की तस्वीरें सामने आई हैं।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एक ओर प्रदेश (MP) में हेल्थ सिस्टम को बेहतर बनाने के लिए सरकार द्वारा तरह-तरह की योजनाएं लागू करने के साथ ही नई टेक्नोलॉजी भी अपनाई जा रही है, ताकि मरीजों को अच्छी से अच्छी सुविधा दी जा सके। दूसरी ओर इन दिनों प्रदेश की अलग-अलग जगहों से लापरवाही की तस्वीरें सामने आ रही हैं। इन तस्वीरों को देखकर ऐसा लग रहा है कि या तो सरकारी दावे झूठे हैं या फिर इन्हें जमीन पर उतारने वाले जिम्मेदार अपनी जिम्मेदारी नहीं निभा रहे हैं।

प्रदेश के पन्ना, रीवा और रतलाम जिले से जो तस्वीरें सामने आई हैं वह हैरान कर देने वाली तो है ही साथ ही यह भी बता रही है कि मध्य प्रदेश में हेल्थ सिस्टम की हालत बदतर है। पन्ना में 4 साल की आदिवासी बच्ची की मौत होने के बाद एंबुलेंस नहीं मिली तो, वहीं रीवा में खराब सड़क के चलते एंबुलेंस ना पहुंच पाने से महिला की मौत हो गई। रतलाम से जो दृश्य सामने आया है उसमे मरीज की जगह बेड पर डॉगी आराम फरमाता नजर आ रहा है।

पन्ना में एंबुलेंस ड्राइवर की मनमानी

पन्ना जिले के गांव लोहारहाई में दूषित पानी पीने की वजह से गांव के कई लोग बीमार हो गए थे। 60 लोगों को गांव में ही इलाज दिया गया था जबकि 4 साल की आदिवासी बच्ची संजना समेत 12 लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती किया गया था। इलाज के दौरान बच्ची ने दम तोड़ दिया। पिता ने शव ले जाने के लिए वाहन की मांग की तो 2 घंटे बाद वाहन उपलब्ध करवाया गया।

एंबुलेंस में अपनी बच्ची को लेकर पिता गांव के लिए रवाना हुए। रास्ते में एंबुलेंस ड्राइवर ने पिता से 1100 रुपए की मांग की, पैसे ना देने पर ड्राइवर ने 2 किलोमीटर दूर ही उन्हें उतार दिया। बेबस माता-पिता एंबुलेंस ड्राइवर से उन्हें आगे ले चलने की गुहार लगाते रहे लेकिन वह नहीं माना और वापस चला गया। माता पिता बेटी के शव को कंधे पर रखकर इधर उधर भटक रहे थे। तभी कुछ समाजसेवी वहां पहुंचे और अस्पताल प्रबंधन से बात कर शव वाहन मंगवा कर पीड़ितों को गांव पहुंचाया।

रीवा में एंबुलेंस न मिलने से महिला की मौत

रीवा के चाकघाट इलाके में 19 वर्षीय एक महिला को सांप ने डस लिया था। सड़क खराब होने की वजह से एंबुलेंस गांव में नहीं पहुंच पाई और महिला ने मौके पर दम तोड़ दिया। घटना के बाद परिजनों ने काफी देर तक हंगामा किया। मौके पर पहुंची पुलिस ने समझाइश देकर शव को अस्पताल पहुंचाया।

 

रतलाम जिले के आलोट में सरकारी अस्पताल में मरीज के पलंग पर आराम फरमाते कुत्ते की कुछ तस्वीरें सामने आई है। मामला सामने आने के बाद अब से जिम्मेदार घटना से पल्ला झाड़ रहे हैं। हाल ही में रतलाम के जिला अस्पताल से लाइट चले जाने पर मोबाइल की रोशनी में मरीज को टांके लगाने का मामला भी सामने आया था।