मृगनयनी एम्पोरियम की चोरी का खुलासा, लाखों की मूर्तियां बरामद, दो अन्य चोरियां भी खुलीं

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। जिले की सिरोल थाना पुलिस ने एक ऐसे शातिर चोर को गिरफ्तार किया है जो गिरोह (Gang) बनाकर चोरियां करता था। इस चोर ने पिछले कुछ दिनों में तीन स्थानों पर चोरियां (Thefts) कर पुलिस को चुनौती दी थी। खास बात ये है इसी चोर ने अपने दो अन्य साथियों के साथ मिलकर कल मृगनयनी एम्पोरियम (Mrignayani Emporium) में चोरी कर कीमती मूर्तियां (Precious sculptures) और अन्य सामान चोरी किया था।

बीती 24 दिसंबर को सुरक्षा विहार कॉलोनी में चोरी कर सेना के जवान की 12 बोर की बंदूक सहित सोने चांदी के जेवरात चुराने वाले चोरों ने फिर 27 दिसंबर को इसी कॉलोनी में ही एक और घर को निशाना बनाया और सोने चांदी के जेवर चुरा लिया। एक ही कॉलोनी में दो बार चोरी होने से पुलिस की कार्य शैली पर सवाल उठने लगे। इसी बीच चोरों ने बीती रात गस्त का ताजिया के पास स्थित शासकीय मृगनयनी एम्पोरियम में सेंध लगाकर चोरी की और पीतल की मूर्तियां सहित अन्य सामान चोरी कर फरार हो गए।

ये भी पढ़े- कृषि मंत्री का बयान, कृषि कानून किसी भी हालत में नहीं होगा वापस, लव जिहाद पर कही बड़ी बात

एक सप्ताह के अंदर तीन चोरियों के बाद पुलिस एक्शन में आई। एसपी अमित सांघी ने पुलिस को शातिर चोरों को गिरफ्तार (Arrest) करने के निर्देश दिये। इसी बीच सिरोल थाना पुलिस को सूचना मिली कि सुरक्षा विहार कॉलोनी में चोरी करने वाला चोर (Thief) डीबी सिटी (DB City) के सामने देखा गया है। सूचना मिलते ही पुलिस चौकन्नी हो गई, तत्काल पुलिस पार्टियां बनाकर मुखबिर द्वारा बताये स्थान पर चोर की घेराबंदी कर उसे पकड़ लिया। एसपी अमित सांघी ने बताया कि जब चोर की तलाशी ली गई तो उसके पास मिले बैग में पीतल की मूर्तियां और अर्टिफिशल ज्वैलरी मिली।

पूछताछ में चोर ने बताया कि उसने अपने दो अन्य साथियों के साथ मृगनयनी एम्पोरियम (Mrignayani Emporium) से इन मूर्तियों और ज्वैलरी को चुराया है। पुलिस ने जब कड़ाई से पूछताछ की तो उसने सुरक्षा विहार की दो चोरियां करना कुबूल कर लिया। पुलिस ने चोर के कब्जे से बंदूक और सोने चांदी के जेवर भी बरामद कर लिए है। एसपी ने बताया कि चोर ने पूछताछ में अपने दोनों साथियों के नाम पते बता दिये हैं जिन्हे जल्दी ही गिरफ्तार कर लिया जायेगा। उन्होंने कहा कि चोर को रिमांड पर लेकर पूछताछ की जायेगी। उम्मीद है इस गिरोह के पकड़े जाने से शहर में हुई दूसरी चोरियों का भी खुलासा हो जाए।