नरोत्तम मिश्रा ने 10 करोड़ से अधिक की लागत से बनने वाले गोराघाट-धीरपुरा मार्ग का किया भूमिपूजन

इस दौरान गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि गोराघाट से धीरपुरा तक 16 मि.मी. सड़क मार्ग बनने से गांव के लोगों को आवागमन की सुविधा प्राप्त होगी। वहीं रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे।

दतिया, सत्येन्द्र रावत। मध्यप्रदेश (Madhya pradesh) शासन के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र (Dr Narottam Mishra) ने 10 करोड़ 59 लाख की लागत से निर्मित होने वाली गोराघाट-धीरपुरा मार्ग का गोराघाट में भूमिपूजन किया। गृह मंत्री ने भूमिपूजन कार्यक्रम को संबाधित करते हुए कहा कि जिले के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी जायेगी। इस क्षेत्र में सड़कों का अभाव था लेकिन उनके द्वारा इस क्षेत्र में सड़कों का जाल बिछाया गया है। आज गोराघाट सड़कों के मामले में एक जंक्शन के रूप में विकसित हो रहा है। उन्होंने कहा कि गोराघाट से धीरपुरा तक 16 मि.मी. सड़क मार्ग बनने से गांव के लोगों को आवागमन की सुविधा प्राप्त होगी। वहीं रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे।

ये भी पढ़ें- Ujjain: सुरक्षा गार्ड हत्याकांड मामला, CSP ने किए चौकाने वाले खुलासे, मृतक की पत्नी भी शामिल

विकास के मामले में दतिया को सर्वश्रेष्ठ बनाना है- नरोत्तम मिश्रा

गृह मंत्री डॉ. मिश्र ने कहा कि माँ पीताम्बरा पीठ, माँ रतनगढ़ माता, माँ खैरीवाला माता, लखेश्वरी माता के आर्शीवाद एवं कृपा से दतिया को विकास के मामले में सर्वश्रेष्ठ बनाने हेतु कार्य किये जा रहे हैं। इसी कड़ी में आज गोराघाट में 10 करोड़ से अधिक की लागत से निर्मित होने वाली सड़क का भूमिपूजन किया गया है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने कोरोना काल में गरीबों को एक रूपये किलो गेहूं, चावल और नमक घर-घर जाकर प्रदाय किया है। कोरोना काल में जिले में रेमिडीसेवर इंजेक्शन, ऑक्सीजन एवं मरीज के लिए दवाओं और अस्पतालों में बैड की कोई कमी नहीं आने दी। बल्कि प्रदेश व उ.प्र. के कई जिलों के मरीज भी जिला चिकित्सालय में उपचार करवा कर स्वस्थ्य होकर अपने घर वापिस गए। कोरोना काल में भर्ती मरीजों से परिजन उनके पास जाने में परहेज कर रहे थे, ऐसे समय में उनके द्वारा कोविड वार्ड में जाकर मरीजों का हालचाल जानकर उनका उत्साह बढ़ाया। गृह मंत्री ने कहा कि वह हमेशा अपने कार्य से कभी पीछे नहीं हटे। अगस्त माह में सिध नदी में आई बाढ़ में फंसे लोगों को अपनी जान की परवाह किये बिना हेलीकॉप्टर से रेस्क्यू कर उन्हें सुरक्षित निकाला गया। उन्होंने कहा कि एक समय था दतिया के लोग ट्रेन पकड़ने झांसी जाते थे। लेकिन आज परिस्थतियां बदल गई है अब बाहर के लोग हवाई जहार पकड़ने दतिया आ रहे है।

इस दौरान कार्यक्रम में पूर्व विधायक प्रदीप अग्रवाल, दतिया जिला भाजपा जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र बुद्यौलिया समेत अन्य नेता व अध्यक्षों के साथ बड़ी संख्या मे क्षेत्रवासी मौजूद रहे।