गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का कमलनाथ पर निशाना, बताया मध्यप्रदेश का सबसे भ्रष्टतम मुख्यमंत्री

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा एक दिवसीय प्रवास पर बालाघाट पहुंचे, जहां उन्होंने बालाघाट पुलिस द्वारा दो महिला नक्सलियों को मारने वाली सुरक्षाबलों की टीम को सम्मानित किया। साथ ही पूर्व सीएम कमलनाथ पर जमकर हमला बोला।

बालाघाट, , सुनील कोरे। 17 दिसंबर को मध्यप्रदेश शासन के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा एक दिवसीय प्रवास पर बालाघाट पहुंचे। यहां उन्होंने कानून व्यवस्था की समीक्षा के साथ ही हाल ही में बालाघाट पुलिस द्वारा दो महिला नक्सलियों को मारने वाली सुरक्षाबलों की टीम का हौंसला बढ़ाया और नक्सली एनकाउंटर में शामिल पुलिस एवं सुरक्षाबलों के जवानों को आउट ऑफ टर्न प्रमोशन के तहत फीता लगाकर सम्मानित किया।

कांग्रेस कर रही भ्रम फैलाने का काम : गृहमंत्री

बालाघाट पुलिस लाईन में आयोजित कार्यक्रम के बाद आयोजित प्रेसवार्ता में गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने प्रदेश की कानून व्यवस्था को सृदृढ़ करने के साथ ही कांग्रेस नेता राहुल गांधी और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कृषि कानून को लेकर किये जा रहे आंदोलन को टुकड़े-टुकड़े गैंग का आंदोलन निरूपित करते हुए कहा कि विपक्ष कृषि कानून को लेकर भ्रम फैलाने की राजनीति कर रहा है। जैसे सीएए में भ्रम फैलाने का काम किया गया, ठीक उसी तरह कृषि कानून को लेकर भ्रम फैलाने का काम किया जा रहा है।

राहुल गांधी पर साधा निशाना

उन्होंने कहा कि राहुल बाबा कहते है कि विधेयक से नुकसान है तो फिर उनके समय किसान क्यों कर्जदार था, वह कर्जदार पैदा होता था और विरासत में भी कर्ज छोड़ जाता था। कांग्रेस ने जीएसटी, वन नेशन, वन एजुकेशन, धारा 370, 35(ए) और सीएए को लेकर भ्रम फैलाने का काम किया। देश में आज कांग्रेस के पास कोई जमीन नहीं है। वह दूसरे के आंदोलन में अपना झंडा लगाते है, दूसरे के ललना को अपने पालना में खिलाकर अपने आप को अबाती कहलाते है।

गृहमंत्री ने कहा प्रदेश को शांति का टापू बनाया जाएगा

उन्होंने कहा कि आगामी पांच सालों में प्रदेश का कोई ऐसा गांव नहीं बचेगा, जहां नल कनेक्शन नहीं होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश को शांति का टापू बनाया जायेगा। प्रदेश सरकार ने मिलावटी माफिया, ड्रग माफिया, भूमाफिया के खिलाफ अभियान छेड़ रखा है, जिसका असर भी पूरे प्रदेश में दिखाई दे रहा है। मिलावटखोरों के खिलाफ न केवल सख्त कार्रवाई की जा रही है, अपितु मिलावट को लेकर संज्ञेय अपराध सहित गैरजमानती बनाने का प्रयास सरकार कर रही है। जिसमें 3 वर्ष से अधिक तक की सजा का प्रावधान किया जा रहा है।

गृहमंत्री कमलनाथ पर बोला हमला

उन्होंने नक्सली समर्पण को लेकर नीति बनाये जाने के सवाल पर कहा कि छत्तीसगढ़ की नक्सली समर्पण नीति के तहत मध्यप्रदेश में भी नक्सली समर्पण नीति बनाकर एकरूपता लाने का प्रयास किया जायेगा। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के खिलाफ चुनाव आयोग की कार्रवाई को लेकर बड़ा हमला बोलते हुए गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस शासनकाल में वल्लभ भवन दलालों का अड्डा बन गया था। सदी की सबसे भ्रष्टतम सरकार कांग्रेस की कमलनाथ सरकार रही और मध्यप्रदेश का सबसे भ्रष्टतम मुख्यमंत्री कमलनाथ रहे।

नक्सली को खत्म का किया जाएगा प्रयास

उन्होंने कहा कि नक्सली क्षेत्र में पुलिस और सुरक्षाबलों को काम करने में किसी प्रकार की कोई समस्या न हो, इसके लिए न केवल इंफ्रास्ट्रचर सृदृढ़ किया जायेगा, साथ ही नेटवर्क सहित अन्य सभी समस्याओं को निराकरण कर प्रदेश की जमीन से नक्सली को खत्म करने का प्रयास किया जायेगा।