नरसिंहपुर गैंगरेप: सीएम शिवराज सख्त, एएसपी-एसडीओपी को हटाया

इस घटना के तुरंत बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एएसपी-एसडीओपी(ASP-SDOP) को हटाने के साथ ही चौकी प्रभारी पर केस दर्ज कर उसकी गिरफ्तारी के निर्देश जारी कर दिए हैं।

narsinghpur

नरसिंहपुर, डेस्क रिपोर्ट। देशभर में हाथरस गैंगरेप(hathras gangrape) की घटना को लेकर उबाल है। इसी बीच मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर (narsinghpur) में एक दलित महिला से गैंगरेप मामले ने तूल पकड़ लिया है। जिसके बाद सियासत की पहल से पहले ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(chiefminister shivraj singh chouhan) ने मामले पर संज्ञान लेते हुए बड़ी कार्रवाई की है। इस घटना के तुरंत बाद उन्होंने एएसपी-एसडीओपी(ASP-SDOP) को हटाने के साथ ही चौकी प्रभारी पर केस दर्ज कर उसकी गिरफ्तारी के निर्देश जारी कर दिए हैं।

दरअसल नरसिंहपुर गैंगरेप(narsinghpur gangrape) मामले में विपक्ष लगातार पुलिस के रवैए और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशाना बना रहा है। जिसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश जारी करते हुए एसपी से स्पष्टीकरण मांगा है। इसके साथ ही कड़े शब्दों में कहा है कि महिलाओं के खिलाफ अपराध किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

बता दे कि नरसिंहपुर के चीचली थाना अंतर्गत एक गांव में अनुसूचित जाति की महिला ने सुबह फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। जहां मृतिका के पति का आरोप है कि उसकी पत्नी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया। जब पुलिस में उसकी शिकायत दर्ज कराने पहुंचे तो पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार करने के बजाय पीड़िता के परिजनों को ही सलाखों के पीछे कर दिया था। जिसके बाद महिला ने आत्महत्या कर ली थी। वही अभी तक इस मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है और वही जल्द कार्रवाई का दावा कर रही है। इसी बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मामले का संज्ञान लेते हुए अधिकारियों पर कार्रवाई की है।