पांच साल की मासूम से दरिंदगी करने वाला गिरफ्तार, पुलिस का कुक है आरोपी

police-cook-arrested-in-case-of-rape-with-a-five-year-innocent

नरसिंहपुर। 

बीते दिनों 24-25 जून को मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर जिले से पांच साल की एक मासूम के साथ दरिंदगी कर उसे जख्मी कर देने की शर्मनाक घटना सामने आई थी। उसी मामले पुलिस ने आरोपी को 48 घंटे में ढूंढ निकाला है और न्यायालय में पेश कर पुलिस रिमांड में ले लिया है। जांच के बाद उस घिनौंना कृत्य करने वाले आरोपी को पुलिस ने पकड़कर उसका पर्दाफाश किया है। जानकारी के अनुसार इस घटना का आरोपी एसएएफ की छटवीं बटालियन में कुक है। उसका नाम संतोष मरकाम बताया जा रहा है। संतोष बीजा डांडी, मंडला का रहने वाला है। एक साल से वह नरसिंहपुर में एसएएफ छटवीं बटालियन में कुक का काम कर रहा है। संतोष के पास से कपड़े एवं जूते सहित अन्य सबूत मिले हैं। पूछताछ के दौरान उसने अपना गुनाह कबूल भी कर लिया है। 

आपको बता दें कि घटना के सामने आने के बाद पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगाली थी जिसमें आरोपी संतोष घटनास्थल पर जाता हुआ दिख रहा था। जिसे जांच के दौरान पुलिस ने उसकी चाल-ढाल देखकर आसानी से पहचान लिया। जांच में यह भी पता चला है कि आरोपी ने शराब के नशे में दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया था। आरोपी संतोष, बच्ची का अपहरण करके उसकी झोपडी से ले गया था। उसके बाद उसने मासूम के साथ बलात्कार करने के बाद उसे बुरी तरह जख्मी कर दिया था। पीड़िता खून से लथपथ हालत में 25 जून सुबह अंडर ब्रिज के पास एक पेड़ के नीचे मिली थी। मासूम बुरी तरह जख्मी हो गई थी इसके बाद से ही उसका उपचार जबलपुर की एक अस्पताल में किया जा रहा है। 

पुलिस की सक्रियता पर उठे थे सवाल

आपको बता दें कि इस पुरे मामले में स्थानीय पुलिस का असंवेदनशील चेहरा सामने आया था, मासूम के गायब हो जाने के बाद उसके परिजन मदद मांगने देर रात पुलिस थाने आए थे लेकिन प्रधान आरक्षक शम्मीलाल गौंड़ ने उन्हें भगा दिया था। मामला उजागर होने की बाद जिला पुलिस अधीक्षक ने प्रधान आरक्षक शम्मीलाल गौंड़ को सस्पेंड कर दिया था। इस घटना को लेकर लोगों में जमकर आक्रोश था। स्थानीय लोग पुलिस की सक्रियता पर भी सवाल उठे थे।