सी आर पी एफ जवान की मौत के मामले में सी बी आई जांच के आदेश

नीमच। घनश्याम लोहार।

सीआर पी एफ के एक जवान की हुई संदिग्ध मौत के मामले में कलकत्ता हाईकोर्ट का बड़ा फैसला सामने आया है जिसमे जवान की मौत के मामले में हाईकोर्ट ने सीबीआई जाँच के आदेश देने के साथ ही छह महीने में अपनी रिपोर्ट को प्रस्तुत करने के आदेश दिए है । बताया जा रहा है की वर्ष 2015 में सीआर पी एफ नीमच में ट्रेनिंग के लिए आये सुमन रॉय की लाश संदिग्ध हालत में पेड़ पर लटकी मिली थी जिसके बाद उसका पीएम करवा कर उसका शव परिवारजनों को सौप दिया था और जवान की इस मौत को अधिकारियो द्वारा आत्महत्या बताया था । लेकिन जवान सुमन की माँ ने अपना संदेह जताते हुवे इस मामले में अपनी शिकायत वरिष्ठ अधिकारियो को की गई ओर जब सुनवाई नहीं हुई तो वे न्यायालय की शरण में पहुँची जहा अब इस मामले में कलकत्ता हाईकोर्ट की डिवीजन बेंच के जस्टिस संजीव बेनर्जी ओर जस्टिस कौशिक चंद्रा ने जवान सुमन की माँ ज्योत्सना रॉय की याचिका पर सुनवाई करते हुए सीबीआई जाँच के आदेश दिए है ।

बता दे कि सीआरपीएफ जवान सुमन रॉय की मौत का ये मामला 24 फरवरी 2015 का है। जब उसकी लाश सीआर पी एफ केम्पस में ही एक पेड़ पर लटकी मिली थी जिसे आत्महत्या बताया गया था। लेकिन इस मामले में सुमन की माँ ज्योत्सना रॉय ने सीनियर अधिकारियो पर मानसिक ओर शारीरिक प्रताड़ना के आरोप लगाए थे। और उसकी की वजह से सुमन की मौत होने का आरोप भी अधिकारियो पर लगाया था। और न्यायलय से इस मामले में उच्च स्तरीय जाँच की मांग की थी जिसमे अब सीबीआई के जाँच के आदेश हुवे है