नीमच दुर्घटना में प्रभावितों के लिए CM Shivraj का बड़ा फैसला, बोले- आरोपियों पर सख्त कार्रवाई

CM Shivraj ने कहा कि Neemuch जिले में बहुत दुर्भाग्यपूर्ण घटना में कन्हैयालाल भील की मृत्यु हो गई थी।

mp

नीमच, डेस्क रिपोर्ट। नीमच (neemuch) के 40 वर्षीय आदिवासी के बेटे की शिक्षा और पालन-पोषण का खर्च मध्य प्रदेश सरकार (MP Government) उठाएगी। दरअसल 40 वर्षीय आदिवासी युवक की कुछ दिन पहले लोगों के एक समूह द्वारा पिटाई और एक वाहन के पीछे घसीटे जाने के बाद मृत्यु हो गई थी। जिस पर अब सीएम शिवराज (CM Shivraj) ने उनके पुत्रों की परवरिश पर बड़ी बात कही है। सीएम शिवराज ने यह भी कहा कि उनकी सरकार मृतकों के दो भाइयों के लिए घर बनाएगी और उन्हें दो-दो लाख रुपये की सहायता भी प्रदान करेगी।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान रविवार को कहा एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना में नीमच जिले में कन्हैयालाल भील की मृत्यु हो गई थी। हमने तय किया है कि राज्य सरकार उनके बेटे दुर्गाशंकर की परवरिश और शिक्षा का पूरा ध्यान रखेगी। सीएम ने कहा कि इस समय दुर्गाशंकर अपनी मां के साथ राजस्थान में हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि खरगोन जिले के बिष्टान में हुई घटना में एक युवक की मृत्यु हो गई थी। इस प्रकरण में पुलिस कर्मियों को पहले ही सस्पेंड किया जा चुका है। साथ ही ठीक सुपरविजन न होने के कारण हमने पुलिस अधीक्षक को भी हटाने का निर्णय लिया है। CM Shivraj ने स्टेट हैंगर से मीडिया को जारी संदेश में यह बात कही।

Read More: CM Shivraj का MP की जनता के नाम संबोधन, कोरोना पर कही ये बड़ी बात

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि घटना की न्यायिक जाँच हो रही है, जाँच में जो तथ्य आएंगे, उनके आधार पर आगे कार्यवाही की जाएगी। ऐसी हर घटना को राज्य सरकार गंभीरता से लेती है।

CM Shivraj ने कहा कि नीमच जिले में बहुत दुर्भाग्यपूर्ण घटना में कन्हैयालाल भील की मृत्यु हो गई थी। हमने निर्णय लिया है कि उनके बेटे दुर्गाशंकर के लालन-पालन और शिक्षा की व्यवस्था राज्य सरकार करेगी। कन्हैयालाल के दो भाईयों के मकान बनवाने का फैसला भी सरकार ने लिया है।

इसके अतिरिक्त दोनों भाईयों को दो-दो लाख रुपये की सहायता राशि दी जाएगी। हम परिवार की पूरी चिंता करेंगे। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ पहले ही सख्त कार्यवाही की जा चुकी है।