नीमच में पैसे लेनदेन की बात को लेकर दो पक्षो में हुआ विवाद, पटवारी की पिटाई, Video वायरल

Neemuch News : मध्यप्रदेश के नीमच से एक बड़ी खबर सामने आई है। जहां पैसे लेनदेन की बात को लेकर दो पक्षो में विवाद हो गया। जिसके बाद विवाद इतना गहरा हो गया कि एक पक्ष ने पटवारी की जमकर पिटाई कर दी। जिसका वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वहीं, एक पक्ष का कहना है कि 4 साल पहले पटवारी ने नामंत्रण के लिए तहसीलदार और अन्य अधिकारी के नाम 50 हजार की रिश्वत ली थी, जिसके बाद भी अब तक काम नहीं हो सका और पैसे भी वापस नहीं दिए जा रहे। जिसे लेकर पूरा विवाद हुआ है और इसको लेकर पहले भी शिकायत की जा चुकी हैं। आइए विस्तार से जानें पूरा मामला…

दोनों पक्षों को ले जाया गया थाना

दरअसल, मामला नीमच- मनासा रोड पर सुप्रीम टायर के सामने का है। जहां पैसे लेनदेन की बात को लेकर दो पक्षो में विवाद हो गया, जिसके बाद सत्यनारायण पटवा और चुकनी ब्लाक पटवारी धामनिया निवासी उदयलाल रावत के बीच जमकर मारपीट हुई। मामला इतना गहरा हो गया कि, दोनों पक्षों को थाने ले जाया गया। इस दौरान सत्यनारायण पटवा की पत्नी प्रेम बाई ने बताया कि पिछले 4 साल से पटवारी उदयलाल रावत निवासी लासुर ने मेरे और पति से रिश्वत ली थी। यह रिश्वत उसने कुकड़ेश्वर में आमेरी के पास खेत नामांतरण के लिए 1 लाख रुपये मांगे थे।

4 साल बाद भी नहीं किया काम

पटवारी को शुरूआत में सांडिया रोड पर 25 हजार दिए। वहींं, 25 हजार गणेश पटवारी के घर दिए और इस तरह पटवारी द्वारा 50 हजार रुपये ले लिए गए है लेकिन 4 साल बीत जाने के बाद भी नामांतरण नहीं हो पाया। साथ ही, पटवारी ने हमारा फोन भी उठाना बंद कर दिया। कई बार पटवारी के घर भी गए पर पटवारी द्वारा पैसे नही लौटाए गए।गुरुवार को सुप्रीम टायर के यहां मेरे पति और पटवारी का आमना-सामना हो गया। जिसके बाद पटवारी ने पैसे मांगे जाने पर लौटाने से साफ मना कर दिया।

जांच में जुटी पुलिस

वहीं, मामले में पटवारी उदयलाल रावत ने कहा कि मैं मेरे बेटे के साथ में सुप्रीम टायर के यहां गाड़ी में टायर डलवा रहा था। तभी अचानक सत्यनारायण मेरे पास आया और मेरे साथ मिलकर हमला कर दिया। फिलहाल, पुलिस ने प्रकरण दर्ज करते हुए मामला जांच में लिया है। फिलहाल, पुलिस मामले की जांच कर रही है।

नीमच से कमलेश सारड़ा की रिपोर्ट