नीमच : आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में कैबिनेट मंत्री ने अनलॉक को लेकर दिए निर्देश

राज्य शासन द्वारा अनलॉक के संबंध में विचार-विमर्श के लिए व्यापारियों के साथ में कोविड प्रभारी मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा की जनपद सभाकक्ष जावद में बैठक संपन्न हुई।

नीमच, कमलेश सारडा। जिले के जावद में अनलॉक को लेकर कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा (Minister Omprakash Saklecha) ने ब्लॉक स्तर पर आपदा प्रबंधन समूह की बैठक ली। बैठक में प्रशासन के आला अधिकारियों के साथ बाजार खोले जाने पर सहमति बनी। साथ ही कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सुझाव दिए गए।

यह भी पढ़ें:-शिवपुरी : शांति समिति की बैठक में उठा पेयजल संकट का मुद्दा, निराकरण को लेकर हुई चर्चा

बैठक में मंत्री सकलेचा ने निर्देश दिए कि बाजार में भीड़ न उमड़े इसका विशेष ध्यान रखा जाए। मंत्री ने सभी से अपील करते हुए कहा कि अपनी दुकानों पर मास्क नहीं तो सामान नहीं की पद्धति पर ही व्यवसाय करें। दुकानों के आगे निर्धारित दूरी पर गोले बनाए और सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखें। सभी व्यापारी और उनके कर्मचारी कोविड का टीका अनिवार्य रूप से लगवा लें। साथ ही दुकानदार अपना कोविड टेस्ट अनिवार्य रूप से करवा लें। होटल व्यवसायियों के सवाल पर मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा ने कहा कि आपको नियम 6 का पालन करना होगा। साथ ही भोजनालय रेस्टोरेंट पर बैठक क्षमता की 50 प्रतिशत की बैठक व्यवस्था रहेगी और नाश्ता दुकानों पर सिर्फ पार्सल की व्यवस्था होगी।

बैठक में मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा ने दिए निर्देश

  • राज्य शासन की गाइड लाइन के अनुसार सोमवार से किराना, दूध डेयरी, सब्जी सहित आवश्यक सेवाओं की दुकाने सोमवार से शनिवार 10 बजे से 6 बजे तक खुलेगी। वहीं रविवार को पूर्ण रूप से जनता कर्फ्यू रहेगा।
  • अत्यावश्यक सेवाओं के अलावा जो बाजार है वो सप्ताह में तीन दिन सारणी बार खुलेगा। व्यापारियों की चर्चा के अनुसार शाम तक वार अनुसार समय सारणी जारी कर दी जाएगी।
    व्यापार करने वाले हर छोटी से लगाकर बड़े व्यापारी को रूल आफ 6 का पालन करना होगा। 6 लोग से ज्यादा कहीं पर भी ग्राहक इकट्ठा ना हो इस नियम का सख्ती से पालन करना होगा।
  • बिना कोरोना जांच के कोई भी व्यापारी व्यापार नहीं कर पाएगा। हर 7 दिन में कोरोना जांच अनिवार्य किया गया है। सोमवार को जावद में कोरोना टेस्ट के लिए शिविर लगाया जाएगा। कोरोना जांच करवाने के बाद सभी व्यापारियों को अपने संस्थान या गले में कार्ड लगाना अनिवार्य होगा।
    टीकाकरण केंद्र पर एक दिन विशेष व्यापारियों के लिए टीकाकरण करवाएंगे।
  • शादी समारोह के लिए दोनों पक्षों से मिलाकर मात्र 20 लोगों की नामजद अनुमति दी जाएगी। उनके अलावा कोई भी समारोह में शामिल नहीं हो सकेगा। सभी शासन के नियमों का पालन करें।
  • कोरोना के साथ कई तरह की और गंभीर बीमारियां भी आ चुकी है। इसलिए सरकारी अस्पतालों में जाकर डॉक्टर से हमारा स्वास्थ्य परीक्षण करवाएं ताकि आने वाली गंभीर बीमारियों से बचा जा सके।