पकड़ा गया पत्रकार का हमलावर विकास आंजना केसुन्दा वाला

नीमच, श्याम जाटव
मालव दर्शन के सिटी रिपोर्टर विष्णु मीणा के अपहरण एवं लूट का आरोपी आज पकड़ा गया है। गौरतलब है कि 6 अगस्त की दरमियानी रात पत्रकार विष्णु मीणा को रिसाला मस्जिद के समीप से बिना नम्बर वाली स्कारनियो चालक ने टक्कर मारी थी, उसके बाद कार में सवार 3-4 लोगो ने पत्रकार का अपहरण कर उसके साथ ग्रीन होटल के समीप हाईवे पर लेजाकर डंडो से मारपीट की। मारपीट के दौरान आरोपियो ने पत्रकार से 1600 रूपये की नगदी और विवो कम्पनी का मोबाईल छीन लिया था और पत्रकार को घायल अवस्था में हाईवे के बीच छोड़ दिया था। उक्त मामले में पुलिस सरगर्मी से आरोपियो की तलाश में जुटी थी, पत्रकार द्वारा बताए गए रास्तो के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले गए थे। पुलिसिया छानबिन में यह भी पता लगा कि बिते कुछ समय पूर्व पत्रकार ने विकास उर्फ बंटी आंजना केसुन्दा वाले की खबर न्यूज ग्रुप में लिखी, जिसके पास सफेद रंग की स्कारपियो कार भी है। पुलिस ने उक्त बुंदिओ के आधार पर अपनी जांच शुरू करते हुए ग्राम केसुन्दा में विकास आंजना के ठिकाने पर दबिश दी, जहां पुलिस को देखकर विकास उर्फ बंटी मौके से फरार हो गया। जिसका पिछा करते हुए आरोपी को स्थानीय शराब दुकान से गिरफ्तार किया। वही पुलिस ने वारदात में शामिल एक अन्य आरोपी मनीष पिता कैलाश चन्द्र निवासी उदयपुर को भी गिरफ्त में लिया है। वही वारदात में शामिल अन्य दो आरोपियो की तलाश जारी है। एसपी मनोज कुमार राय द्वारा प्रेसवार्ता में बताया कि आरोपी विकास आंजना द्वारा अपहरण की वारदात को अंजाम देते समय जिस स्कारपियो का इस्तेमाल किया था वह कर्नाटक से चोरी की गई थी।

विकास दुबे की राह पर विकास आंजना
क्षेत्र में रंगदारी और तस्करी की छोटी मोटी वारदातो को अंजाम देने वाला विकास आंजना उर्फ बंटी गैंगस्टर विकास दुबे की राह पर चलने की फिराक में था, जो उसके धंधे में टांग अड़ाने की हिमाकत करने वालो के बीच दहशत पैदा करने की कोशिश में था। पत्रकार विष्णु मीणा के साथ कारित घटनाक्रम में भी कुछ ऐसा ही वाक्या सामने आया है, जिसमें पत्रकार द्वारा न्यूज ग्रुपो पर डाले गए समाचारो से तिलमिलाकर विकास आंजना ने अपने गुर्गो के साथ मिलकर अपहरण, मारपीट और लूट जैसी संगीन वारदात को अंजाम दिया। गैंगस्टर विकास दुबे की तर्ज पर ईलाके में अपना दबदबा कायम रखने के उद्देश्य से केसुन्दा के इस विकास ने एक पत्रकार को अपना निशाना बनाते हुए समाज के बीच अपना खौफ पैदा करने की नापाक कोशिश की। जिस पर पुलिस ने शिकंजा सकते हुए बदमाश विकास आंजना को गिरफ्तार किया।

चुनौतिपूर्ण वारदात में पुलिस को मिली सफलता
पिछले तीन दिनो पूर्व मध्यरात्रि को अपने दफ्तर से निवृत्त होकर घर लौटते हुए शहर के प्रमुख मार्ग पर पत्रकार के साथ कारित अपहरण, मारपीट और लूट की सनसनीखेज वारदात पुलिस के लिए बड़ी चुनौति के रूप में सामने थी, जिसको लेकर पत्रकार संगठन द्वारा भी बदमाशो की जल्द गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौपा गया। मामले में पुलिस टीम द्वारा ताबड़तोड़ दबिशे दी गई और मुखबिर तंत्र के माध्यम से आरोपियो की खाक छानी गई। पुलिस ने इस पुरे मामले में फरियादी के बयाद और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर अपनी जांच को सही दिशा में आगे बढ़ाया और अंततः वारदात में शामिल मुख्य आरोपी विकास उर्फ बंटी आंजना और उसके एक साथी को दबोचने में पुलिस ने कामयाबी हांसिल की। मामले में दो अन्य आरोपीयो की गिरफ्तारी फिलहाल शेष है। वही संभावनाए जताई जा रही है कि वारदात को अंजाम देने वालो में तस्करी के काले धंधे से जुड़े अन्य लोगो के चेहरे भी उजागर हो सकते है।