Lok Sabha Election 2024: नीमच जिला निर्वाचन अधिकारी ने मतगणना स्थल पर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर दी जानकारी, पढ़ें पूरी खबर

मीडिया सेंटर तक मीडिया कर्मियों को मोबाइल ले जाने की छूट रहेगी। मीडिया कर्मियों के लिए स्कॉट ऑफिसर नियुक्त किए गए हैं, जो मीडिया कर्मियों को छोटे-छोटे बैचेस में तीनों विधानसभा में काउंटिंग की प्रक्रिया का अवलोकन कराएंगे।

Neemuch

Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव 2024 के आखिरी चरण का चुनाव 1 जून 2024 को है, जबकि मतगणना 4 जून को होगी। वहीं, मध्य प्रदेश के मंदसौर-नीमच संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली जावद, मनासा विधानसभा क्षेत्र की मतगणना 4 जून को नीमच जिले के पीजी कॉलेज में होगी। मतगणना को लेकर नीमच जिला निर्वाचन अधिकारी दिनेश जैन ने आज यानी शुक्रवार को प्रेस वार्ता कर सुरक्षा व्यवस्था आदि की जानकारी दी।

बनाए गए दो स्ट्रांग रूम

जिला निर्वाचन अधिकारी दिनेश जैन ने बताया कि पीजी कॉलेज में जावद, मनासा और नीमच विधानसभा क्षेत्र की मतगणना होगी। इसके लिए पीजी कॉलेज में दो स्ट्रांग रूम बनाए गए है जोकि अलग-अलग बिल्डिंग में हैं। उन्होंने बताया कि पुरानी बिल्डिंग में नीमच विधानसभा का स्ट्रांग रूम है और नई बिल्डिंग में जावद और मनासा विधानसभा क्षेत्र का स्ट्रांग रूम है।

सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद

जिला निर्वाचन अधिकारी ने आगे बताया कि मतगणना स्थल की सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद की गई है। मतगणना स्थल पर त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। वहाँ पर पास वाले लोग पूरी चेकिंग के द्वारा अंदर प्रवेश कर पाएंगे और जो काउंटिंग एजेंट है उनके आने की व्यवस्था अलग से है। इसके अलावा कॉलेज के पीछे जो ग्राउंड है वहाँ वाहन पार्किंग व्यवस्था बनाई गई है। मोबाइल रखने के लिए पब्लिक कम्युनिकेशन रूम बनाया गया है और मीडिया कर्मियों के लिए मीडिया सेंटर बनाया गया है।

स्टाफ को दी गई ट्रेनिंग

मीडिया सेंटर तक मीडिया कर्मियों को मोबाइल ले जाने की छूट रहेगी। मीडिया कर्मियों के लिए स्कॉट ऑफिसर नियुक्त किए गए हैं, जो मीडिया कर्मियों को छोटे-छोटे बैचेस में तीनों विधानसभा में काउंटिंग की प्रक्रिया का अवलोकन कराएंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी ने आगे बताया कि बाकी स्टाफ की ट्रेनिंग हो चुकी है, ऑब्जर्वर की नियुक्ति भी हो गई है, जिसमें दो ऑब्जर्वर रहेंगे। साथ ही कहा कि मध्य प्रदेश चुनाव आयोग ने हमें जो निर्देश दिए हैं उसका हम कड़ाई से पालन करवाएंगे। कैंडिडेट्स के जो एजेंटस है वे 24 घंटे निगरानी कर रहे हैं। हमने उनकी व्यवस्था की है और मतगणना स्थल पर सीसीटीवी का कवरेज भी है।

नीमच से कमलेश सारडा की रिपोर्ट


About Author
Shashank Baranwal

Shashank Baranwal

पत्रकारिता उन चुनिंदा पेशों में से है जो समाज को सार्थक रूप देने में सक्षम है। पत्रकार जितना ज्यादा अपने काम के प्रति ईमानदार होगा पत्रकारिता उतनी ही ज्यादा प्रखर और प्रभावकारी होगी। पत्रकारिता एक ऐसा क्षेत्र है जिसके जरिये हम मज़लूमों, शोषितों या वो लोग जो हाशिये पर है उनकी आवाज आसानी से उठा सकते हैं। पत्रकार समाज मे उतनी ही अहम भूमिका निभाता है जितना एक साहित्यकार, समाज विचारक। ये तीनों ही पुराने पूर्वाग्रह को तोड़ते हैं और अवचेतन समाज में चेतना जागृत करने का काम करते हैं। मशहूर शायर अकबर इलाहाबादी ने अपने इस शेर में बहुत सही तरीके से पत्रकारिता की भूमिका की बात कही है–खींचो न कमानों को न तलवार निकालो जब तोप मुक़ाबिल हो तो अख़बार निकालोमैं भी एक कलम का सिपाही हूँ और पत्रकारिता से जुड़ा हुआ हूँ। मुझे साहित्य में भी रुचि है । मैं एक समतामूलक समाज बनाने के लिये तत्पर हूँ।

Other Latest News