नर्सिंग छात्र संगठन ने अपनी मांगों को लेकर सौंपा ज्ञापन, सीएचओ भर्ती प्रक्रिया से बाहर रखने का विरोध

नीमच, रामेश्वर नागदा। नर्सिंग छात्र संगठन एनआरएचएम द्वारा संविदा स्तर पर निकाली गई सीएचओ की भर्ती में जीएनएम नर्सिंग, बीएससी नर्सिंग, पोस्ट बीएससी नर्सिंग छात्र छात्राओं को वंचित रखा गया है। इसे लेकर नर्सिंग छात्र संगठन ने मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन कलेक्टर प्रतिनिधि कार्यालय प्रभारी को सौंपा।

इस ज्ञापन में कहा गया है कि प्रदेश सरकार स्वास्थ्य मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले विभाग एनआरएचएम द्वारा कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर की भर्ती का नोटिफिकेशन जारी किया गया है जिसके अंतर्गत भर्ती प्रक्रिया में रूल बुक के अंदर जीएनएम नर्सिंग के छात्र छात्राओं के आवेदनों और भर्ती प्रक्रिया से बाहर रखा गया है। जबकि जीएनएम नर्सिंग के अंदर हजारों की संख्या में छात्र-छात्राएं कोर्स करके बैठे हुए हैं और इन सभी को प्रदेश सरकार के नियमानुसार मध्य प्रदेश नर्सिंग काउंसलिंग और इंडियन नर्सिंग काउंसलिंग के नियम अनुसार डिप्लोमा रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट दिए गए हैं। परंतु इस भर्ती प्रक्रिया से बाहर रखकर इनके व सरकारी नियमानुसार दिए गए डिप्लोमा रजिस्ट्रेशन की धज्जियां उड़ाई जा रही है। इस कारण हजारों की संख्या में नर्सिंग के छात्र छात्राएं बेरोजगार हैं और इस प्रकार लाखों की संख्या में 2020 से पहले बीएससी नर्सिंग और पोस्ट बीएससी नर्सिंग के छात्र छात्राओं का जीवन अंधकार में आ गया है। नर्सिंग छात्र संगठन ने ज्ञापन के माध्यम से मांग की है कि सीएचओ संविदा भर्ती प्रक्रिया में जीएनएम नर्सिंग, बीएससी नर्सिंग व पोस्ट बीएससी नर्सिंग के छात्र छात्राओं को समान अवसर दिया जाए। इस अवसर पर नर्सिंग छात्र संगठन पवन बैरागी जिला अध्यक्ष नर्सिंग छात्र संगठन राकेश माली ,जिला उपाध्यक्ष नर्सिंग नईम हुसैन, सुरभि चौहान, ज्योति ग्वाला, आयुषी माली, प्रिया मीणा, भारती प्रजापति, आशा माली सहित बड़ी संख्या में छात्र-छात्रा उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here