कुख्यात तस्कर कमल राणा का निलंबित आरक्षक और उसके बेटे से सीधा कनेक्शन, कई किसानों को झूठे केस में फंसवाया

Sanjucta Pandit
Published on -

Gangster Kamal Rana : कुख्यात तस्कर कमल राणा पर एमपी-राजस्थान में 70 हजार का इनाम घोषित था। फरार होने के दौरान राणा गैंग चला रहा था जो कि डोडाचूरा और अफीम की तस्करी बडे पैमाने पर कर रही थी। बता दें कि इस गैंग में पुलिसकर्मी से लेकर कई बदमाश शामिल थे। जिनके चेहरे अब जांच में बेनकाब हो रहे है। जिसे लेकर प्रतापगढ पुलिस ने नीमच जिले के 6 संदिग्ध पुलिसकर्मियों की लिस्ट नीमच SP अमित तोलानी को भेजी है। जिसके आधार पर उन्हें निलंबित कर दिया गया है। जिसमें सबसे पहला नंबर आरक्षक क्रमांक 549 अजीज खान का है। जिसके बेटे और पिता दोनों से आरोपी का सीधा कनेक्शन है।

विवादों में रह चुका है अजीज खान

बता दें कि अजीज खान लंबे समय से कमल राणा से जुडा हुआ था जो कि पुलिस की डयूटी कम लेकिन राणा के लिए डयूटी ज्यादा कर रहा था। निलंबित आरक्षक अजीज खान पूर्व में भी कई बार विवादों में रहा है। इसलिए उसका प्रमोशन नहीं हुआ और अब राणा गैंग में शामिल होने के चलते निलंबित हुआ है। अजीज खान और कमल राणा के कनेक्शन में कई चौंका देने वाली जानकारी सामने आई है। निलंबित आरक्षक ही नहीं बल्कि उसके बेटे अजीम और अमजद भी राणा के लिए काम कर रहे थे।

चैकपोस्ट पर करता था अवैध वसूली

अजीज खान का एक बेटा अजीम बघाना RTO चैकपोस्ट पर है। करीब 15 सालों से वह इस चैकपोस्ट पर है। वैसे ऑन द रिकार्ड नहीं है लेकिन राठौडी में यह सालों से इस चैकपोस्ट पर है और वहां अवैध वसूली करता है। साथ ही, यह राणा की गाडियां पार करवाने की जिम्मेदारी भी निभा रहा था। यूं कहें कि बाप अजीज खान पुलिस विभाग में रहते हुए मादक पदार्थ की तस्करी कर रहा था तो वहीं बघाना चैक पोस्ट पर रहते हुए उसके बेटे अजीम खान पठान ने मोर्चा संभाल रखा था। बता दें कि बघाना चैकपोस्ट राजस्थान की बार्डर पर है। यहां पर निलंबित आरक्षक अजीज खान के बेटे अजीम खान पठान का एकतरफा राज चलता है। परिवहन विभाग का कोई भी अधिकारी इस पोस्ट पर नहीं रहता था क्योंकि यह सिर्फ अजीम खान के भरोसे थे।

अजीम खान आस-पास के इलाकों से अफीम व डोडाचूरा एकत्रित करता था और चेकपोस्ट पर ही राणा की गाडियां लोड होती थी। फिलहाल, अजीम खान को क्यों रखा है। इस सवाल का जवाब परिवहन विभाग के पास भी नहीं है। सिर्फ राठौडी में रख रखा है। सूत्रों के अनुसार, राणा के जहां-जहां पैसे अटके हुए थे, उनकी उगाही कर रहे। वहीं, राजस्थान प्रतापगढ पुलिस अगर दोनों बाप-बेटे की भूमिका की सूक्ष्मता से जांच करें तो कई खुलासें हो सकते है और निलंबित आरक्षक अजीज खान व उसके बेटे अजीम खान पर प्रकरण दर्ज भी हो सकता है।

कई किसानों को झूठे केस में फंसवाया

सूत्रों के अनुसार, निलंबित आरक्षक अजीज खान और उसके बेटे अजीम खान ने कई किसानों को झूठे केस में फंसवाकर करोडों की वसूली की है। अफीम व डोडाचूरा के दोनों बाप-बेटे खरीदार बनते थे फिर ये पुलिस या अन्य एजेंसी के जरिए उन्हें पकडवाते थे। उसके बाद कई किसानों ने औन-पौने दामों में जमीन बेची है।

नीमच से कमलेश सारडा की रिपोर्ट


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News